पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जेल भेजा:10 लीटर स्प्रिट पुलिस ने जब्त की

खरगोन14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जहरीली शराब से बीमार होने के बाद आबकारी व पुलिस ने तेज कार्रवाई कर दी है। इसके चलते भगवानपुरा पुलिस ने 10 लीटर स्प्रिट जब्त किया है। इसमें एक आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। जब्त लीटर स्प्रिट से तीन गुना शराब बनाई जाती। एएसपी जितेंद्रसिंह पंवार ने बताया भगवानपुरा थाना प्रभारी विश्वेश्वर करील देहात भ्रमण के ग्राम चोखंड पहुंचे। यहां मुखबिर से सूचना मिली कि ग्राम कान्यापानी तरफ से एक व्यक्ति एक सफेद रंग की केन मे स्प्रिट (इस्त्रा) भरकर ला रहा है। इसके बाद थाना प्रभारी ने पुलिस टीम का गठन किया। टीम ग्राम कान्यापानी रोड पहुंची। यहां पेड़ की आड़ से देखा तो मुखबीर के बताए हुलिए के आधार पर एक व्यक्ति हाथ मे सफेद रंग की केन लेकर आते हुए दिखाई दिया। पुलिस टीम ने घेराबंदी कर पकड़ा। ।उसने अपना नाम सुनिल पिता कालूराम सोलकी जाति बारेला (22) निवासी चोखंड गोविंदा फाल्या बताया। उसके पास प्लास्टिक सफेद रंग की केन की जांच की तो उसमें तेज गंध बिना रंग स्प्रिट शराब जैसा तरल पदार्थ मिला। पुलिस टीम के सदस्यों ने सूंघा व कपड़े का टुकड़ा भीगा कर जलाया। इसमें नीले रंग की लोह भपके के साथ व चखने पर अप्रिय स्वाद होने से घबराहट होने लगी। इसकी पहचान मानव उपयोग के लिए घातक हरीली स्प्रिट के रूप में मिली। पूछताछ करने पर चोरी छिपे बेचना बताया। आरोपी से प्लास्टिक के केन से 10 लीटर स्प्रिट कीमत दो हजार रुपए जब्त की। पुलिस ने आबकारी धाराओं में केस दर्ज किया है। पुलिस टीम में एसआई रमेश भास्करे, कृष्णा, अकांक्षा सिंह शामिल थे। ऐसे बनती है स्प्रिट से शराब आबकारी विभाग के जिला सहायक अधिकारी आरएस राय ने बताया कि 100 से 150 की तेज वाली स्प्रिट से ढाई गुना शराब बनती है। 150 से 160 की स्प्रिट से तीन गुना शराब बनती है। अधिकांश लोग 150 से 160 वाली स्प्रिट बेचते हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप में काम करने की इच्छा शक्ति कम होगी, परंतु फिर भी जरूरी कामकाज आप समय पर पूरे कर लेंगे। किसी मांगलिक कार्य संबंधी व्यवस्था में आप व्यस्त रह सकते हैं। आपकी छवि में निखार आएगा। आप अपने अच...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser