पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बरसे बदरा:भगवानपुरा में 3 इंच बारिश, खारक भरा, अपरवेदा में बढ़ा जलस्तर, 1 बालक बहा

खरगोन19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
खारक बांध की स्पील से अब पानी बहने लगा है। - Dainik Bhaskar
खारक बांध की स्पील से अब पानी बहने लगा है।
  • सीजन की तेज बारिश फिर भी पिछले साल से 56 प्रतिशत पिछड़े

जिले में जून के बाद रविवार को तेज बारिश हुई। झिरन्या में लगभग 5 इंच बारिश बारिश हुई। रूपारेल नदी में 8 वर्षीय सोम पिता राजू निवासी संजय नगर झिरन्या बह गया। उसका पता नहीं चला। अपरवेदा बांध का जलस्तर 2 मीटर बढ़कर 307.6 मीटर पर पहुंचा। भगवानपुरा क्षेत्र में खारक जलाशय शाम 5 बजे सीजन में पहली बार ओवरफ्लो हुआ। खारक जलाशय पिछले साल अगस्त के पहले सप्ताह में ही भर गया था। तेज बारिश से कुंदा-वेदा में बाढ़ आ गई। भीकनगांव क्षेत्र में केवटी ने 3 घंटे यातायात को रोके रखा। शहर में दोपहर 1.30 बजे आधा घंटे में 1 इंच बारिश हुई। जिले में अब तक 403.5 औसत बारिश दर्ज हुई है। पिछले साल 722 मिमी दर्ज हुई थी। पिछले साल की तुलना में 56 प्रतिशत बारिश ही हुई है।

आज की बारिश : झिरन्या 123 मिमी, खरगोन 25.2, भगवानपुरा 76 मिमी, सनावद 3, भीकनगांव व बड़वाह 5-5, कसरावद व महेश्वर 1-1 मिमी।

भीकनगांव : मोहनखेड़ी क्षेत्र में केवटी नदी के पुल पर बाढ़ से झिरन्या-भीकनगांव मार्ग 3 घंटे बंद रहा। राजू व गणेश ने बताया सुबह 6 बजे केवटी में पानी बढ़ने लगा। देखते ही देखते पुल डूब गया। सुबह 9 बजे पानी उतरने पर आवागमन शुरू हो पाया। भीकनगांव क्षेत्र में भी रात को तेज बारिश हुई।

झिरन्या : झिरन्या व ऊपरी क्षेत्र में सुबह तेज बारिश हुई। वेदा व रूपारेल नदी उफन गई। अपरवेदा बांध में 307.6 मीटर से बढ़कर शाम तक 309.4 मीटर जलस्तर पहुंच गया। 317 मीटर बांध की क्षमता है। इससे 8 मीटर खाली है। शाम 4 बजे पहाड़ी क्षेत्र में तेज बारिश के चलते झिरन्या की रूपारेल नदी में भी बाढ़ आ गई। रतनपुर मार्ग एक घंटे तक बंद रहा।

भगवानपुरा/धूलकोट : क्षेत्र में सुबह 6 से 8 बजे तक रिमझिम व उसके बाद दोपहर 12 से 3 बजे तक तेज बारिश हुई। शाम 6 बजे तक बौछारे गिरती रहीं। खारक बांध सुबह दो फीट खाली था। शाम 5 बजे 18.29 मिलियन क्यूबिक मीटर क्षमता से ऊपर हो गया। थरड़पुरा के नाले में बाढ़ का पानी आने से पुल डूब गया। एक घंटे तक पीपलझोपा मार्ग बंद रहा। गोमुख नाले में भी बाढ़ का पानी आ गया। काबरी रोड पर पानी भर गया। घरों में पानी घुसने से लोग परेशान हुए। धूलकोट में ग्रामीण सीमेंटीकरण सड़क के दोनों ओर नाली निर्माण की मांग कर रहे है।

महेश्वर : नगर व क्षेत्र में रविवार को आधे घंटे तेज बारिश हुई। इसके बाद भी हल्की बारिश का क्रम चलता रहा। 1 घंटे की बारिश से लोगों को गर्मी व उमस से राहत मिली।

खबरें और भी हैं...