पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आज से सुचारू होगा जल वितरण:7 माह में दूसरी बार फूटी 45 साल पुरानी पेयजल लाइन, पूरे शहर में नहीं बंटा पानी

खरगोन22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बिस्टान रोड पर चला सुधार कार्य। - Dainik Bhaskar
बिस्टान रोड पर चला सुधार कार्य।
  • पंप बंद-चालू होने का दबाव नहीं झेल पाई

नपा की पेयजल लाइन रविवार अलसुबह 4 बजे बिस्टान रोड पर पीजी कॉलेज के पास से फूट गई। पंप बंद-चालू होने से 45 साल पुरानी पाइपलाइन दबाव नहीं झेल पाई। 7 माह में यह दूसरा मौका है जब एक ही जगह लाइन फूटी है। इस कारण शहरी क्षेत्र की पेयजल टंकियां नहीं भर पाई। इस वजह से पूरे शहर में पेयजल वितरण नहीं हो पाया। नपा के जल कार्य विभाग का अमले ने सुबह 6 बजे से सुधार शुरू किया। शाम 6 बजे तक सुधार चला।

जल कार्य प्रभारी सरजू सांगले बताते हैं लाइन पुरानी होने से पंप का दबाव नहीं झेल पाई। 7 माह पहले भी इस क्षेत्र में मेनलाइन फूट गई थी। दिनभर सुधार के बाद लाइन को दुरुस्त कर दिया गया। सोमवार से पेयजल वितरण सुचारू हो जाएगा। पेयजल लाइन फूटने से जल प्रदाय का टाइम टेबल में बदलकर एक दिन आगे बढ़ जाएगा। रविवार जिन क्षेत्र में पानी मिलना था अब वहां सोमवार व जहां सोमवार को सप्लाय होना था वहां मंगलवार को सप्लाय होगा।

कुंदा स्थित बैराज में पेयजल खत्म होने से 26 मई को खारक बांध से 0.5 एमसीएम पानी छुड़वाया। यह 29 मई सुबह बैराज में पहुंचा। यह शहरवासियों के लिए बांध में रिजर्व पानी की तीसरी खेप थी। फिलहाल शहर में 1 दिन छोड़ 45 मिनट पेयजल मिल रहा है। गर्मी में पानी की डिमांड 23 लाख गैलन प्रतिदिन की है। फिलहाल 20 लाख गैलन पानी का वितरण हो रहा है।

45 साल पुरानी लाइन पंपों का दबाव नहीं झेल पा रही है। अब लाइन दुरुस्त कर दी है। रविवार जहां पेयजल वितरण होना था वहां सोमवार व जिन क्षेत्र में सोमवार पानी बंटना था वहां मंगलवार सप्लाय होगा।
- सरजू सांगले, जल शाखा प्रभारी नपा

खबरें और भी हैं...