पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नावघाट खेड़ी क्षेत्र का मामला:मिटटी खोद रहे मजदूर पर 25 फीट ऊंचाई से गिरा टीला, मौत

खरगोन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अवैध उत्खनन पर अफसर नहीं कर रहे कार्रवाई

डेहरिया में एक भूमि पर पर मिट्टी खोदते समय एक मजदूर दब गया। जिससे उसकी मौत हो गई। एसआई रामलाल डूडवे ने बताया एक भूमि पर तीन मजदूर मिटटी खोद रहे थे। इस दौरान दशरथ प्रजापति के ट्रेक्टर में मिट्टी खोदकर भर रहे थे। खोदने के दौरान करीब 20-25 फीट मिटटी का टीला मजदूर रमेश पिता शोभाराम (32) निवासी दशहरा मैदान पर आ गिरा। साथी मजदूरों ने उसे मिटटी हटाकर निकालने की कोशिश की लेकिन तब तक रमेश की मौत हो गई थी। एसआई ने बताया घटना दोपहर तीन बजे की है लेकिन साथी मजदूरों ने इसकी जानकारी शाम 5.30 बजे दी। मौके पर पहुंचकर पंचनामा बनाकर शव को शासकीय अस्पताल भेजा। मर्ग कायम कर इसकी जांच शुरू कर दी है। प्राप्त जानकारी के अनुसार इस मार्ग पर अवैध तरीके से मिटटी खोदने का कार्य जारी है। बिना किसी सुरक्षा उपकरणों के खोदने के कार्य मजदूरों के लिए जानलेवा साबित हो रहे हैं। साथियों ने बताया रमेश के दो छोटे बच्चे हैं। यह जमीन सरकारी है या जबरन कब्जे की इस बारे में जांच की जा रही है। इसके साथ ही कौन सी पंचायत क्षेत्र में आता है|इसकी जानकारी भी खंगाली जाएगी|

मुख्य मार्ग से करीब दो किमी अंदर है स्थल
नावघाट खेड़ी क्षेत्र में रेत के साथ मिट्टी का अवैध उत्खनन किया जा रहा है। रेत खनन तो एक्वाडक्ट पुल के नीचे किया जा रहा है लेकिन ये मिट्टी का उत्खनन रोड़ से नर्मदा तट तक पहुंच मार्ग के मध्य में किया जा रहा है। यहां पहुंच मार्ग बेहद अंदर है। ट्रेक्टर बड़ी मुश्किल से जाते हैं लेकिन इसके बावजूद यह मिटटी के उत्खनन का केंद्र बन गया है। क्षेत्र में प्रशासन की पकड़ बेहद कमजोर है। यह पूरा क्षेत्र उत्खननकर्ताओं के लिए अभ्यारण्य बना है। जहां वे मनमर्जी से रेत व मिट्टी का लगातार उत्खनन कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें