सराहनीय पहल:कोरोना से प्रभावितों को आर्थिक सहायता देने के लिए बनाया सहायता कोष

खरगोन6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सहकारी बैंक व संस्था के 800 कर्मचारी एक दिन का वेतन देंगे

कोरोना संक्रमण से प्रभावित कर्मचारियों की मदद के लिए जिला सहकारी बैंक व प्राथमिक कृषि साख संस्थाओं के कर्मचारी एक दिन का वेतन देंगे। इसके लिए आर्थिक सहायता कोष बनाया गया है। बैंक व संस्थाओं में करीब 800 कर्मचारी कार्यरत हैं।

बैंक के प्रबंध संचालक एके जैन ने बताया बैंक व संस्थाओं में पदस्थ कर्मचारी कोरोना काल में लोगों को बैकिंग सुविधाएं देने के साथ सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत खाद्यान्न वितरण व गेहूं खरीदी का काम कर रहे है।

संस्थाओं के कर्मचारी वर्तमान में अन्य विभाग के कर्मचारियों के समान कोरोना वारियर्स घोषित नहीं हुए है। इन कामों के दौरान बैंक-संस्थाओं के 106 कर्मचारी कोरोना संक्रमित हुए। इनमें से 6 की मौत हो गई है। कर्मचारियों की मृत्यु की स्थिति में संस्थाओं से ग्रेच्युटी, भविष्य निधि व बीमा संबंधी कोई सुविधा का लाभ नहीं मिलता है।

उनका परिवार संकट में होकर भरण पोषण के लिए संघर्ष कर रहा है। उनकी पारिवारिक वित्तीय स्थिति को देखते हुए कर्मचारी संगठनों के आव्हान पर बैंक-संस्थाओं के कर्मचारियों ने अप्रैल माह के वेतन से 1 दिन का वेतन देकर संस्थागत कर्मचारी कल्याण कोष का गठन किया है।

शाखा में शत-प्रतिशत करवाया वैक्सीनेशन

प्रबंध संचालक ने बताया कोरोना संक्रमण को देखते हुए अभियान चलाकर शाखाओं व संस्थाओं में पदस्थ 45 साल से अधिक आयु के कर्मचारियों को वैक्सीन लगवाई गई। सतत मॉनिटरिंग कर शत प्रतिशत वैक्सीनेशन करवाया गया।

खबरें और भी हैं...