पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना के कारण:इस साल कर वसूली में पिछड़े, दो साल पहले रिकार्ड वसूली के लिए मिला था पुरस्कार

खरगोनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • नराशि के अभाव में विकास कार्य व वेतन निकालने की परेशानी, सीएमओ बोले- अभियान चलाकर वसूलेंगे

कोरोना के कारण व्यापारी, किसानों सहित अन्य लोगों की आर्थिक स्थिति पर खासा असर पड़ा। नगर परिषद भी इससे अछूती नहीं रही। कर वसूली के मामले में नप पिछड़ गई है। पिछले साल की बड़ी बकाया राशि होने के साथ इस साल भी वसूली 30 फीसदी ही हो पाई है। इसके चलते शुरुआती दौर में कर्मचारियों के वेतन निकालने में परेशानी हुई, वहीं विकास के काम भी नहीं हो पा रहे हैं। वर्ष 18-19 में नप ने डेढ़ करोड़ रुपए की वसूली की थी। इसको लेकर शासन ने नप को बेस्ट वसूली का प्रमाण पत्र भी दिया था लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते दो साल से वसूली में कमी आई है। सीएमओ का कहना अब अभियान चलाकर वसूली की गति बढ़ाएंगे। शासन की अधिभार में छूट का भी लाभ मिलेगा। नप के कर्मचारी बाजार सहित नगर के 15 वार्डों में डोर टू डोर जाकर कर जमा करने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। वार्डों में मुनादी करवाकर अधिकतम राशि वसूली के लिए संपत्तिकर, जलकर, दुकान किराया आदि में शासन से अधिभार की छूट की जानकारी भी दी जा रही है। नप को उम्मीद है कि जल्द ही नप की आर्थिक स्थिति पटरी पर आएगी।

इस साल वसूली की स्थिति
मद मांग वसूली

संपत्तिकर 2835330 563896
जलकर 6915758 1892540
भवन/भूमि 3326652 921432
(आंकड़े नप के अनुसार लाख में)

पिछले साल के 54 लाख बकाया
इस साल 78 लाख 18 हजार 261 रुपए वसूली का लक्ष्य है। इसके विरुद्ध 26 लाख 5 हजार 459 रुपए की वसूली हो चुकी है। राजस्व विभाग प्रभारी संतोषचंद्र दसौंधी ने बताया आगामी 5 माह में 80 प्रतिशत तक राशि वसूली की उम्मीद है। वहीं पिछले साल के बकाया 63 लाख 12 हजार 688 के विरूद्ध भी 8 लाख रुपए वसूले है। इस राशि की वसूली के भी प्रयास कर रहे। नप कर्मचारियों का कहना है कि वसूली के अलावा चालानी कार्रवाई व अन्य कामों में भी समय देना पड़ता है।

एसडीएम ने भी बैठक में दिए निर्देश
एसडीएम संघप्रिय ने बुधवार को विभागों की महत्वपूर्ण बैठक ली। इसमें कई जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी ली गई। शासन की वर्तमान में जारी व आगामी समय में क्रियान्वित होने वाली योजनाओं के बारे में भी चर्चा की। 2 घंटे से अधिक समय चली बैठक में जलकर, संपत्तिकर आदि की वसूली के भी निर्देश दिए। साथ ही खरगोन, इंदौर व मंडलेश्वर मार्ग पर डिवाइडर की स्थिति को बेहतर करने और सौंदर्यीकरण के लिए कहा।

कोरोना के कारण वसूली पिछड़ी, जल्द सुधरेगी स्थिति
^8 माह के कोरोना काल के कारण वसूली पिछड़ी है। शासन की अधिभार में छूट की योजना लोगों को बताई जा रही है। साथ ही डोर टू डोर पहुंचकर कर्मचारी वसूली में जुटे है। जल्द नप की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा। - संजय रावल, सीएमओ

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- यह समय विवेक और चतुराई से काम लेने का है। आपके पिछले कुछ समय से रुके हुए व अटके हुए काम पूरे होंगे। संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी समस्या का भी समाधान निकलेगा। अगर कोई वाहन खरीदने क...

और पढ़ें