पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मप्र प्रदूषण बोर्ड की स्पर्धा:प्रदूषण से कष्ट उठाते पेड़ व पृथ्वी की बच्चों ने चिंता उकेरी

खरगोन8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • चित्रकला में कॉलेज ग्रुप 1 में सनावद की प्रिया प्रथम स्थान पर रहीं

मप्र प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने विश्व पर्यावरण दिवस पर ऑनलाइन चार श्रेणी में चित्रकला व स्लोगन प्रतियोगिता आयोजित की थी। इसमें इंदौर रीजन के लगभग 500 विद्यार्थियों ने भाग लिया। स्पर्धा के परिणाम घोषित हो गए। जिले के बच्चों ने चित्रकला में कष्ट उठाते पेड़ व पृथ्वी पर चिंता को उकेरा।

चित्रकला में कॉलेज ग्रुप-1 में सनावद श्री रेवा गुर्जर कॉलेज की प्रिया बिरला प्रथम रहीं। ग्रुप-1 9वीं से 12वीं में आदित्य विद्या विहार की अनुष्का जोशी तृतीय व स्लोगन श्रेणी में 9वीं से 12वीं के ग्रुप-4 में देवी अहिल्या उमावि क्रमांक 2 के हाशिम अब्दुल द्वितीय रहे। निर्णायक मंडल में होलकर विज्ञान कॉलेज के पूर्व प्राध्यापक डॉ. किशोर पंवार, जीजाबाई कॉलेज इंदौर के पूर्व प्राध्यापक डॉ. भोलेश्वर दुबे व बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी आरके गुप्ता थे। इस दौरान वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. डीके वागेला, मुख्य रसायनज्ञ एसएन पाटिल, वैज्ञानिक संजय जैन, नमन पटेल सहित अन्य थे।

4 ग्रुप में रखी गई थी स्पर्धा
बोर्ड ने दोनों स्पर्धाएं कक्षावार 4 ग्रुप में विभाजित की। प्राथमिक, माध्यमिक, उमावि व कॉलेज वर्ग के विद्यार्थियों के अलग-अलग ग्रुप बनाकर उनकी प्रविष्टियों को शामिल किया। हर वर्ग में पुरस्कृत विद्यार्थियों को बोर्ड प्रमाण-पत्र व पुरस्कार देगा।
प्रिया ने पेड़ के गर्भ में दिखाई पृथ्वी व अनुष्का ने विविधता
प्रिया ने पृथ्वी को पेड़ के गर्भ में व अनुष्का ने पेड़ कटने से धरती पर पशु-पक्षी व अन्य जीवों के कष्ट को दिखाने का प्रयास किया। प्रिया ने पेड़ को ही महिला के रूप में दिखाकर उद्योगों से फैल रहे प्रदूषण से हो रही पीड़ा को साकार किया। बोर्ड के निर्णायक मंडल ने दोनों स्पर्धाओं के अलग-अलग 4-4 ग्रुप में से प्रथम, द्वितीय व तृतीय विजेता का चयन किया है।

खबरें और भी हैं...