• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Khargone
  • Community Violence On Ram Navami In Madhya Pradesh, Community Violence In Khargone Latest Updates, Community Violence In Barwani, Community Violence, Stone Pelting, Arson, Violence, Madhya Pradesh Hindi News, Madhya Pradesh Crime News

खरगोन में नदी पार पहुंची सांप्रदायिक हिंसा:देर रात रहीमपुरा इलाके में पथराव, उपद्रवियों ने खंडवा रोड पर दो बसों में लगाई आग

खरगोन7 महीने पहले

खरगोन में रविवार को रामनवमी पर शुरू हुए उपद्रव की आग सोमवार रात नदी पार पहुंच गई। हालांकि, सोमवार को दिनभर शांति रही, लेकिन रात करीब 11 बजे कुंदा नदी के दूसरी ओर रहीमपुरा इलाके में पथराव की घटना हुई। उपद्रवियों ने खंडवा रोड पर दो बसों में आग लगा दी। यह घटना कर्फ्यू के दौरान हुई। खरगोन में रविवार रात में ही 3 दिन तक कर्फ्यू लगा दिया गया था।

इससे पहले सोमवार को दिनभर पत्थरबाजी करने वाले लोगों की धरपकड़ जारी रही। इंदौर कमिश्नर डॉ. पवन शर्मा और आईजी राकेश गुप्ता के निर्देशन ये कार्रवाई की गई। अब तक 84 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इनमें से 77 उपद्रवियों को रविवार की रात में ही पकड़ा गया था। इनके बाद सोमवार को 7 लोगों को पकड़ा। इनमें से 19 आरोपियों को कोर्ट में पेश किया है। प्रशासन ने आरोपियों के मकानों और दुकानों को तोड़ने की कार्रवाई भी की। छोटी मोहन टॉकीज इलाके में 4 मकान और 3 दुकान, खसखसवाड़ी में 12 मकान और 10 दुकान, गणेश मंदिर के पास 1 दुकान, औरंगपुरा में 3 दुकान और तालाब चौक में 12 दुकानों पर कार्रवाई की गई।

8वीं और कॉलेज की परीक्षाएं स्थगित

खरगोन शहर में आयोजित होने वाली कक्षा 8वीं और कॉलेज की परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं। कलेक्टर अनुग्रहा ने बताया कि हालात सामान्य होने पर छूटे पेपर की परीक्षाएं ली जाएगी। प्रशासन ने शहर में 3 दिन के कर्फ्यू के आदेश जारी किए है। शहर के चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात है। आसपास के जिलों से भी पुलिस पहुंचा है। बिना अनुमति किसी भी आयोजन का किसी भी तरीके से प्रचार प्रसार को प्रतिबंधित किया गया है। अगर कोई भी व्यक्ति सोशल मीडिया में आपत्तिजनक फोटो, वीडियो, प्रतिक्रिया या अफवाह फैलाने जैसी गतिविधियां पोस्ट करता है तो एडमिन पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

3 कर्मचारी बर्खास्त, 1 निलंबित
इंदौर आयुक्त डॉ. पवन शर्मा ने बताया कि रामनवमी के दौरान घटित घटनाक्रम में अफवाह फैलाने वाले नगर पालिका के 3 वेतनभोगी और 1 स्थायीकर्मी अकबर रफीक कामगार को निलंबित किया गया है। वहीं 3 वेतनभोगियों में चिराग इदरीस, मासूम कला और इज्राहीद राऊल को काम से हटा दिया गया है।

बता दें कि खरगोन में श्रीराम शोभायात्रा पर रविवार शाम को तालाब चौक के पास पथराव किया गया। उपद्रवियों ने 30 से ज्यादा दुकानों और मकानों में आग लगा दी। रात करीब 9 बजे मामला कुछ शांत हुआ, लेकिन देर रात 12 बजे फिर हिंसा भड़क गई। आनंद नगर, संजय नगर मोतीपुरा में घर फूंक दिए गए। कुछ घरों में लूटपाट भी की गई। इससे 70 से अधिक परिवारों को घर छोड़कर दूसरी जगह जाना पड़ा।

इस घटना में 10 पुलिसकर्मी और 20 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। SP सिद्धार्थ चौधरी के बाएं पैर में गोली लगी है। वहीं, पुलिस ने सोमवार सुबह तक 77 उपद्रवियों को हिरासत में लिया है। पुलिस-प्रशासन ने हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए हैं। इधर, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घटना का दुर्भाग्यपूर्ण कहा है। CM ने कहा- किसी दंगाई को नहीं छोड़ेंगे। उन पर कठोर कार्रवाई की जाएगी। दंगाई चिह्नित कर लिए गए हैं। जिन्होंने पत्थर चलाए, संपत्ति को नुकसान पहुंचाया, उनसे सार्वजनिक या निजी संपत्ति के नुकसान की वसूली भी करेंगे। CM के आदेश के बाद खरगोन में मोहन टाकीज इलाके में दंगाइयों के मकान तोड़ने का काम प्रशासन ने शुरू कर दिया है।

जिन घरों से पथराव हुआ है, उन्हें पत्थर का ढेर बनाएंगे
इस घटना पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि जिन घरों से पथराव हुआ है, उन्हें ही पत्थर का ढेर बनाएंगे। अब खरगोन में शांति है। वहां पर्याप्त पुलिस बल मौजूद है। भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय और प्रभारी मंत्री कमल पटेल ने ट्वीट कर आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई की बात कही।

​​​​​​इस मामले में आप अपनी राय दे सकते हैं...

पूरे शहर में कर्फ्यू
इस घटनाक्रम से शोभायात्रा स्थगित कर दी गई थी। कलेक्टर ने पहले पांच इलाकों में कर्फ्यू लगाया, लेकिन देर रात जब हालात काबू नहीं हुए तो पूरे शहर में कर्फ्यू लगा दिया।

पुलिस-प्रशासन ने हेल्पलाइन नंबर जारी किए

पुलिस-प्रशासन ने शहरवासियों के लिए हेल्पलाइन जारी की है।
पुलिस-प्रशासन ने शहरवासियों के लिए हेल्पलाइन जारी की है।

घायल किशोर इंदौर में वेंटिलेटर पर
हिंसा में घायल शिवम पिता पुरुषोत्तम (16) निवासी जमींदार मोहल्ला को रात में इंदौर के एक निजी अस्पताल में एडमिट किया गया है। उसके सिर में गंभीर चोट है। परिजन जब उसे इंदौर ला रहे थे, तब वह होश में था। लेकिन, फिर उसकी हालत बिगड़ती गई। उसका रात में ही ऑपरेशन किया गया, लेकिन उसे होश नहीं आया है। किशोर को सोमवार को वेंटिलेटर पर रखा गया।

खरगोन हिंसा में गंभीर घायल शिवम का इंदौर के एक निजी अस्पताल में ऑपरेशन किया गया। उसे वेंटिलेटर पर रखा गया है।
खरगोन हिंसा में गंभीर घायल शिवम का इंदौर के एक निजी अस्पताल में ऑपरेशन किया गया। उसे वेंटिलेटर पर रखा गया है।

सांसद और BJP प्रदेश उपाध्यक्ष फंसे, थाने पहुंचे तो बल नहीं
पथराव की सूचना पर रविवार शाम 7.45 बजे सांसद गजेंद्र सिंह पटेल और भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष श्याम महाजन सराफा और भाटवाड़ी पहुंचे। इस दौरान वहां पथराव और आगजनी होने लगी। इसके बाद दोनों सीधे कोतवाली पहुंचे। उन्होंने वहां मौजूद कर्मचारियों से कहा कि जल्दी पुलिस बल भेजो। पुलिसकर्मियों ने जवाब दिया कि यहां फोर्स कम है। इसके बाद खरगोन प्रशासन ने इंदौर के वरिष्ठ अफसरों को सूचना देकर पुलिस बल बुलाया।

पुलिस बल आने के बाद हिंसा प्रभावित क्षेत्र में सांसद गजेंद्र पटेल, विधायक रवि जोशी, कमिश्नर पवन शर्मा, IG राकेश गुप्ता, कलेक्टर अनुग्रहा पी, DIG तिलक सिंह पहुंचे।
पुलिस बल आने के बाद हिंसा प्रभावित क्षेत्र में सांसद गजेंद्र पटेल, विधायक रवि जोशी, कमिश्नर पवन शर्मा, IG राकेश गुप्ता, कलेक्टर अनुग्रहा पी, DIG तिलक सिंह पहुंचे।

SP को पैर में गोली लगी, ऑपरेशन किया, TI भी घायल
SP के बाएं पैर में गोली लगी है। उन्हें पुलिसकर्मियों की मदद से निजी अस्पताल पहुंचाया। 10 से ज्यादा विशेषज्ञों ने उनके पैर का ऑपरेशन किया। तालाब चौक क्षेत्र में पथराव में TI बीएल मंडलोई को सिर में पत्थर लगने से चोट आई है।

खरगोन में तनाव के बाद कर्फ्यू: MLA बोले- एक-एक पत्थर का हिसाब होगा

कुछ इलाकों में पहले से कर रखी थी तैयारी

लोगों का कहना है कि उपद्रव अचानक नहीं हुआ। इसकी तैयारी पहले से की गई थी। उपद्रवियों ने घरों की छतों पर पत्थर और पेट्रोल बम जमा कर रखे थे। पुलिस ने जुलूस के पहले ड्रोन से सर्चिंग कराई होती तो ये पहले ही पकड़ में आ जाते।

तालाब चौक के पास स्थित एक मकान में उपद्रवियों ने आग लगा दी।
तालाब चौक के पास स्थित एक मकान में उपद्रवियों ने आग लगा दी।
काजीपुरा क्षेत्र में उपद्रवियों से जूझती पुलिस।
काजीपुरा क्षेत्र में उपद्रवियों से जूझती पुलिस।

लोगों ने पुलिस-नेताओं को फोन कर कहा- हमें बचा लो
पथराव के दौरान घरों में बंद लोगों ने रिश्तेदारों, नेताओं और पुलिस को फोन लगाकर मदद मांगी। भाटवाड़ी मोहल्ले में 40 परिवारों को उनके रिश्तेदारों के घर सुरक्षित पहुंचाया गया। इसके अलावा संजय नगर मोतीपुरा, गोशाला मार्ग में भी करीब 30 परिवार अपने घर छोड़कर दूसरे स्थानों पर चले गए।

गौशाला मार्ग क्षेत्र में उपद्रवियों पर लाठीचार्ज करती पुलिस।
गौशाला मार्ग क्षेत्र में उपद्रवियों पर लाठीचार्ज करती पुलिस।
काजीपुरा क्षेत्र में पत्थर फेंकते उपद्रवी।
काजीपुरा क्षेत्र में पत्थर फेंकते उपद्रवी।

खरगोन शहर में कर्फ्यू, इन लोगों को छूट

  • चिकित्सा और आवश्यक वस्तु अधिनियम में खाने-पीने की सेवाओं में लगे लोगों को छूट रहेगी।
  • पेपर होने या जरूरी होने पर राजस्व और पुलिस अफसरों को सूचना दे सकेंगे।
  • जरूरी सेवाओं को छोड़कर कोई भी घर से बाहर नहीं निकलेगा। 5 लोग समूह में इकट्‌ठा नहीं होंगे।
  • बिना अनुमति डीजे और लाउड स्पीकर नहीं बजेंगे। ​​​​
  • व्यक्ति, संस्था, संगठन और समूह बिना अनुमति आयोजन नहीं करेंगे।
  • शासकीय सेवा में लगे कर्मचारी के अलावा सामान्यजन अस्त्र-शस्त्र लेकर नहीं चल पाएंगे।
  • भड़काऊ भाषा के झंडे, बैनर, पोस्टर और नारों पर रोक।
तालाब चौक क्षेत्र में पत्थरों से पटी पड़ी सड़क।
तालाब चौक क्षेत्र में पत्थरों से पटी पड़ी सड़क।
उपद्रवियों पर आंसू गैस का गोला छोड़ता पुलिसकर्मी।
उपद्रवियों पर आंसू गैस का गोला छोड़ता पुलिसकर्मी।

रविवार को दहशत के 7.30 घंटे: शाम साढ़े पांच बजे से रात 9 बजे तक उपद्रव, रात 12 बजे के बाद फिर हिंसा

शाम 5.30: शोभायात्रा पर पत्थर फेंके, भगदड़ मची
तालाब चौक से रामनवमी की शोभायात्रा शुरू हुई। लोग डीजे पर डांस करते हुए आगे बढ़ रहे थे। इसी बीच गली से कुछ लोगों ने पत्थर फेंके। इससे भगदड़ मच गई। मोहन टॉकीज और गौशाला मार्ग पर भी पथराव शुरू हो गया।

6.00: आंसू गैस के गोले छोड़े, हवाई फायर किए
मोहन टॉकीज का पथराव करीब दस मिनट बाद ही थम गया, लेकिन गौशाला मार्ग पर पथराव जारी रहा। दो-तीन झांकियों पर भी पथराव हुआ। पुलिस ने हालात काबू करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े और हवाई फायर किए।

6.30: जुलूस स्थगित किया, कर्फ्यू लगाया
तालाब चौक क्षेत्र में पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोल छोड़े। आगे जुलूस भी स्थगित कर दिया गया। कलेक्टर अनुग्रहा भी पहुंचीं। प्रभावित क्षेत्र में शाम 6.37 बजे कर्फ्यू लगा दिया गया।

6.40: भावसार मोहल्ले में आधा घंटे पथराव
भाटवाड़ी और सराफा में पथराव हुआ। धार्मिक स्थल में आग लगा दी गई। तीन से ज्यादा दुकानें जला दी गईं। भावसार मोहल्ले में आधे घंटे से ज्यादा समय पथराव चला। वहीं, सिद्धनाथ मंदिर के पीछे किशोर बेहोश मिला।

6.45: टवड़ी मोहल्ला माता चौक में पेट्रोल बम फेंके
टवड़ी मोहल्ला माता चौक में एक मकान से लगातार पत्थर और फर्शियां फेंकी गईं। लोग आमने-सामने हो गए। इस दौरान पेट्रोल बम भी फेंके गए। कुछ मकानों के बाहर रखा सामान जल गया।

6.50: युवक तलवार लहराते हुए भीड़ को मारते भागा
संजयनगर-मोतीपुरा में पहले से एकत्रित लोगों की भीड़ ने नारेबाजी की। दोनों तरफ से पथराव हुआ। RI रेखा रावत बल के साथ पहुंचीं। स्थिति बिगड़ी तो SP सिद्धार्थ चौधरी पहुंचे। पथराव तेज हो गया। इसी क्षेत्र में एक युवक तलवार लहराते आया और भीड़ को मारते हुए भाग गया।

बड़वानी के सेंधवा में पत्थर लगने से शहर TI घायल हो गए।
बड़वानी के सेंधवा में पत्थर लगने से शहर TI घायल हो गए।

बड़वानी में भी जुलूस के दौरान पथराव
बड़वानी के सेंधवा में भी रामनवमी के जुलूस के दौरान पथराव हुआ। शहर के जोगवाड़ा रोड पर दो समुदायों में जमकर पथराव हुआ। शहर थाना प्रभारी बलदेव सिंह मुजाल्दा समेत 5 अन्य लोग घायल हो गए। बाइक और स्कूटी जला दी गई। उपद्रवियों ने कुछ धार्मिक स्थलों को भी निशाना बनाया। पुलिस और प्रशासन ने जल्द स्थिति पर काबू पा लिया। बाद में शहर में जुलूस निकाला गया। थाना प्रभारी ने बताया के फिलहाल इसकी जांच की जा रही है कि किस वजह से पथराव हुआ। दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़िए

खरगोन में भड़की सांप्रदायिक हिंसा पर सियासत:दिग्विजय का आरोप- जहां कपिल मिश्रा के पांव पड़े, वहीं दंगा; BJP नेता का जवाब- जिहादी का काम

खबरें और भी हैं...