पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कपास:कपास में नमी बताकर किया निरस्त, हंगामे के बाद खरीदा

खरगोनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • किसानों ने सीसीआई पर लगाया भेदभाव का लगाया, कहा- व्यापारियों के कपास को बिना जांच के खरीद रहे अधिकारी

बुधवार को मंडी में दूसरे दिन सीसीआई के अधिकारी किसानों की कपास की उपज खरीदने पहुंचे। एक किसान के अच्छे कपास में नमी अधिक होने पर निरस्त कर दिया। इस पर मंडी में उपस्थित किसानों ने सीसीआई के अधिकारियों पर आक्रोश व्यक्त करते हुए दोबारा से किसान की उपज को देखने की मांग की। करीब 30 मिनट बाद अधिकारियों ने किसान की उपज को दोबारा से जांच कर कपास की खरीदी की। ग्राम हाथीदग्गड़ के किसान करामत खान मंडी में 6 क्विंटल कपास लेकर आया था। सीसीआई के अधिकारियों ने मशीन से जब नमी देखी तो वह मापदंड से अधिक आई। अधिकारियों ने किसान के कपास को निरस्त कर दिया। जिसके कारण वहां मौजूद किसान आक्रोशित हो गए। किसानों ने कहा मंडी में अच्छा कपास भी सीसीआई नहीं खरीद रही लेकिन गांवों से किसानों से कपास खरीदने वाले व्यापारियों का कपास अधिकारी बिना जांच कर खरीद रहे हैं। सीआईआई के अधिकारी किसानों से भेदभाव कर रहे हैं। ग्राम बंडेरा के किसान राधेश्याम चौहान ने बताया मेरा कपास अच्छा था। उसे बिना जांच कर ही निरस्त कर दिया। उसी कपास की करही के कपास व्यापारी ने 5 हजार रुपए प्रति क्विंटल में खरीदा। सीसीआई के अधिकारी अपनी मनमर्जी चला रहे हैं। किसानों ने मंडी कार्यालय का घेराव कर मंडी सचिव अनिल उजले से सीसीआई अधिकारियों की शिकायत कर सही माप दंड व बिना भेदभाव के कपास खरीदी कराने व एलआरए पर सीसीआई से खरीदी शुरू कराने की मांग की। किसानों ने कहा मंडी में किसानों के नाम से व्यापारियों के कपास के वाहन आ रहे हैं। जिन्हें सीसीआई बिना मापदंड व जांच कर खरीद रही है। किसानों के अच्छे कपास को निरस्त कर रहे हैं। अच्छे कपास को कम भाव में व्यापारी खरीद रहे हैं। किसानों ने अतिरिक्त तहसीलदार व मंडी प्रशासक विजेंद्र कटारे से भी शिकायत कर उन्हें मंडी में बुलाया। मंडी पहुंचे प्रशासक से किसानों ने सीसीआई अधिकारियों की शिकायत की।

सीसीआई ने दो दिन में खरीदे 20 वाहन
कृषि उपज मंडी में सीसीआई ने दो दिनों में कपास खरीदी की महज औपचारिकता की पूर्ति की है। मंगलवार को सीसीआई के अधिकारियों इस मंडी में आए कपास के 9 वाहनों में से 3 व 10 बैलगाड़ी कपास में से 1 की खरीदी की। बुधवार को 29 वाहनों में से 8 व 34 बैलगाड़ी कपास में से 8 की खरीदी कर औपचारिकता पूरी की। किसानों ने कहा सीसीआई के अधिकारी भेदभाव करते हैं। अच्छे कपास को खरीदने की बजाय जो व्यापारी किसानों के पंजीयन पर वाहन लाते हैं। उनके कपास की खरीदी करते हैं। किसानों के माल की खरीदी कर बाकी को निरस्त कर देते हैं। बाकी किसानों का कपास व्यापारी खरीद रहे हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। इस समय ग्रह स्थितियां आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही हैं। आपको अपनी प्रतिभा व योग्यता को साबित करने का अवसर ...

और पढ़ें