पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

हालात से संघर्ष करते युवा...:इंजीनियर व 15 ग्रेजुएट कर रहे मनरेगा में काम, रात में पीएससी की तैयारी

खरगोनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • लॉकडाउन में अन्य शहरों से लौटे गोवाड़ी के युवा चला रहे गैंती-फावड़े, आर्थिक तंगी के बीच आगे बढ़ने के लिए युवा कर रहे परिश्रम
Advertisement
Advertisement

जिला मुख्यालय से 10 किलोमीटर दूर है गोवाड़ी गांव। यहां मनरेगा में 10 से ज्यादा काम चल रहे हैं। कोविड-19 के चलते प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी छोड़ 25 से ज्यादा युवा गांव लौटे हैं। गरीब परिवार के युवा मनरेगा में मजदूरी कर रहे हैं। उनमें से 1 है इंदौर में मप्र लोक सेवा आयोग की तैयारी कर रहे सिविल इंजीनियर सचिन यादव। लॉकडाउन के कारण उन्हें भी गांव लौटना पड़ा।  2 साल पहले खरगोन के श्रीजी अभियांत्रिकी महाविद्यालय से सिविल इंजीनियरिंग की उपाधि ली थी। वे पिछले डेढ़ साल से इंदौर में रहकर लोक सेवा की तैयारी कर रहे हैं। सचिन जैसे गांव के 15 से ज्यादा ग्रेजुएट युवा अपनी आर्थिक स्थिति बेहतर नहीं होने के कारण मनरेगा में मजदूरी कर रहे हैं। दिन में मजदूरी करते हैं जबकि बाकी समय में प्रतियोगी परीक्षा की भी तैयारी करते हैं। 

मजदूरी से चलता है परिवार - सचिन

सचिन बताते हैं लॉकडाउन में अप्रैल के आखिरी सप्ताह गांव लौटा। गांव में रोजगार नहीं मिला। परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी। मनरेगा में काम करते एक माह हो गया है। गरीब परिवार से हूं। एक एकड़ जमीन है। परिवार का मजदूरी से ही गुजारा होता है। ऐसे में मनरेगा में ही काम करने से परिवार की भी मदद कर पा रहा हूं। कोई भी काम छोटा या बड़ा नहीं होता।

युवा बोले- सौ से बढ़ाकर 125 दिन का दिलाएं रोजगार
युवाओं को मनरेगा में काम करने का कोई मलाल नहीं है। वे कहते हैं कि सरकार ने मनरेगा में प्रवासी मजदूरों को 100 दिन के स्थान पर 125 दिनों का रोजगार उपलब्ध करवाकर उनकी समस्या काफी कम कर दी है। कुछ युवाओं ने रोजगार के दिनों की संख्या 125 से बढ़ाकर और अधिक करने की भी मांग की है ताकि उन्हें गांव में ही रोजगार मिलता रहे।

दिन में गैती रात में थाम लेते हैं कलम
अरविंद यादव ने खरगोन से बीए करने के बाद मप्र लोक सेवा आयोग की तैयारी कर रहे हैं। सचिन सांवले इंदौर के होलकर साइंस काॅलेज से बीएससी की है। इनके अलावा शुभम यादव बीएससी, अमन पटेल बीए, रितिक यादव बीएससी, शैलेश कुशवाह बीए व आईटीआई, मोहित यादव बीएससी बाद विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं। विज्ञान में स्नातक सचिन सांवले, कला में स्नातक अरविंद यादव सहित करीब 15 युवा मनरेगा में गैंती-फावड़े चला रहे हैं। 

बारिश में भी मजदूरी की कराएंगे व्यवस्था
^ मनरेगा में बारिश होने पर भी कुछ काम ऐसे शुरू कराए जाएंगे, ताकि प्रवासी मजदूरों को ज्यादा से ज्यादा काम मिलता रहे।  
- गौरव बेनल, सीईओ जिला पंचायत खरगोन

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज वित्तीय स्थिति में सुधार आएगा। कुछ नया शुरू करने के लिए समय बहुत अनुकूल है। आपकी मेहनत व प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। विवाह योग्य लोगों के लिए किसी अच्छे रिश्ते संबंधित बातचीत शुर...

और पढ़ें

Advertisement