बालिका की मौत के बाद हुआ था हंगामा:खरगोन पहुंचे परिजन, कार्रवाई की मांग, 15 घंटे बाद करही में ही हुआ पोस्टमार्टम

करही9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस की मौजूदगी में हुआ पीएम। - Dainik Bhaskar
पुलिस की मौजूदगी में हुआ पीएम।
  • गिरफ्तारी की मांग पर अड़े रहे परिजन

शनिवार को नगर के पाटीदार क्लिनिक में इलाज के बाद एक 16 वर्षीय लड़की की मौत के मामले में परिजनों ने डाॅक्टर के खिलाफ जमकर हंगामा किया था। रात काे पुलिस ने डाॅक्टर के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। परिजनों के हंगामे के बाद रविवार को नगर के निजी क्लिनिक बंद रहे।

रविवार को करही के शासकीय अस्पताल में सुबह 8 बजे से पुलिस के अधिकारियों ने बालिका के पीएम कराने की बात को लेकर परिवारजनों से कहा परिजन जहां भी पीएम कराना चाहे हम वहां पर करा देंगे। इसके बाद भी परिजन डाॅक्टर की गिरफ्तारी को लेकर अड़े रहे। सुबह 9 बजे परिजन व रिश्तेदार वाहन से खरगोन कलेक्टर व एसपी से मिलने पहुंचे। सुबह साढ़े 11 बजे एसडीओपी मानसिंह ठाकुर भी करही पहुंच कर थाने पर गए जहां पर टीआई से घटना को लेकर चर्चा की।

दोपहर को खरगोन सीएचएमओ के निर्देश पर डाॅक्टर की टीम प्राथमिक स्वास्थ केंद्र पहुंची। उनके साथ महेश्वर बीएमओ थे। सीएचएमओ ने मामले की गंभीरता को देखते हुए पीएम के लिए तीन डॉक्टरों की टीम नियुक्त की। जिसमें डाॅक्टर संजय पंवार पाडल्या, मेडिकल आफिसर डाॅ. साउ जोशी व महेश्वर के डॉ. अखिलेश तिवारी महेश्वर को पीएम का जिम्मेदारी सौंपी गई। अस्पताल में अतिरिक्त तहसीलदार राहुल डावर भी पहुंचे। जिन्होंने पुलिस अधिकारियों से घटना को लेकर चर्चा की।

विसरा रिपोर्ट से बालिका की मौत का होगा खुलासा
सुबह खरगोन आला अधिकारियों से मिलने गए परिजन शाम को करही प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे। जहां पर एसडीओपी मानसिंह ठाकुर, टीआई सीताराम चौहान, एसआई साधना पूरे, बागोद चौकी प्रभारी सत्यनारायण सोनगरा व पुलिसकर्मियों व परिजनों की उपस्थिति में तीन डाॅक्टरों की टीम ने शाम 5 बजे पीएम शुरू किया। जो करीब एक घंटे तक चला। मेडिकल आफिसर डॉ. संजय पंवार ने बताया विसरा जांच के लिए सैंपल लिए गए है। विसरा पुलिस के सुपुर्द किया जाएगा। रिपोर्ट आने पर जानकारी मिलेगी।

खबरें और भी हैं...