पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

10वीं के सभी 20796 विद्यार्थी पास:पहली बार अर्द्धवार्षिक परीक्षा, यूनिट टेस्ट व आंतरिक मूल्यांकन के अंक स्कूलों ने ही दिए थे

खरगोन17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

माध्यमिक शिक्षा मंडल भोपाल की हाईस्कूल परीक्षा का बुधवार शाम 4 बजे रिजल्ट आया। विद्यार्थियों में जिज्ञासा थी न शिक्षकों में कौतुहल। इससाल कोविड के कारण मुख्य परीक्षा नहीं हुई। अर्द्धवार्षिक परीक्षा, यूनिट टेस्ट व आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर परिणाम तैयार हुआ और सभी विद्यार्थी पास हो गए। इससाल 18846 नियमित व 1950 विद्यार्थियों ने प्राइवेट फाॅर्म भरे थे। न कोई फेल हुआ न पूरक मिली।

कोरोना के चलते पहली बार माशिमं की बोर्ड परीक्षाएं नहीं हुई। रिजल्ट में भी जिलेवार स्थिति नहीं आई। हर बच्चे का रोल नंबर के आधार पर रिजल्ट निकाला। शिक्षा विभाग के अनुसार 100 प्रतिशत रिजल्ट आया है। इसके बावजूद कोई विद्यार्थी अपने परिणाम से असंतुष्ट है तो वे सितंबर में होने वाली सभी या किसी विषय विशेष की परीक्षा में शामिल हो सकेंगे। इन्हें 1 से 10 अगस्त के बीच एमपी ऑनलाइन पोर्टल पर पंजीयन करवाना पड़ेगा। परीक्षा के बाद परिणाम को ही आखिरी रिजल्ट माना जाएगा।

इनको मिली तृतीय श्रेणी
स्वाध्यायी के रूप में परीक्षा में शामिल सभी विद्यार्थियों को तृतीय श्रेणी दी। जबकि पिछले साल नियमित का परिणाम 69.51 व प्राइवेट का मात्र 13.35 था। शिक्षा विभाग के अनुसार 2020 में 17551 नियमित विद्यार्थी थे। इनमें से 12200 उत्तीर्ण हुए। स्वाध्यायी में शामिल 5077 विद्यार्थियों में से 678 पास हुए थे।

कुकडोल की नंदनी को मिले 93 प्रतिशत अंक
कुकडोेल स्कूल के 49 विद्यार्थियों में से 24 प्रथम, 22 द्वितीय व 3 तृतीय श्रेणी में उत्तीर्ण हुए। प्राचार्य ललिता धुले ने बताया नंदनी त्रिलोक धनगर ने 93 प्रतिशत अंकों के साथ प्रथम रही। भागवती राजेश धनगर, सपना चौहान, राम नन्नू चौहान व शिवम कनकसिंह चौहान ने भी 80 प्रतिशत से अधिक अंक मिले।

पहले : स्कूलों के हाथ में सिर्फ प्रायोगिक अंक थे
2019 तक परिणाम का मुख्य आधार वार्षिक परीक्षा था। परीक्षा बाद उत्तरपुस्तिकाएं अन्य जिलों में जांच के लिए भेजी जाती थी। केवल प्रायोगिक परीक्षा लेकर इसके अंक माशिमं को भेजता था।

इस साल : हर विद्यार्थी का मूल्यांकन स्कूलों ने किया
कोरोना के कारण इससाल वार्षिक परीक्षा नहीं हुई। अर्द्धवार्षिक परीक्षा, यूनिट टेस्ट व आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर स्कूलों ने विद्यार्थियों को अंक दिए थे। इसी आधार पर परिणाम तैयार किया।

उत्कृष्ट स्कूल : सभी 227 बच्चे पास, अंकित प्रथम
उत्कृष्ट स्कूल में सभी 227 विद्यार्थी पास हुए। अंकित बावने 92% से प्रथम, सतीश गुप्ता 88% द्वितीय व छात्रा यामिनी जांगड़े के 87% तृतीय रहीं।

देवी अहिल्या क्र. 2 : 65 प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण
देवी अहिल्या क्रमांक 2 में इस साल 174 छात्र परीक्षा में शामिल हुए। प्राचार्य आरकेसिंह कुशवाह ने बताया 65 प्रथम, 48 द्वितीय व 61 तृतीय श्रेणी में उत्तीर्ण हुए।

खबरें और भी हैं...