पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बस संचालन पंक्चर:आधी सवारी ही बैठाना है तो इसका हर्जाना दे सरकार

खरगोनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 12 सूत्री मांगों को लेकर चालक-परिचालकों का 7 दिनी धरना शुरू

सरकार ने सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए बस संचालन को कहा है। बस ऑपरेटर इसके विरोध में हैं। 1 जुलाई से भी बसों का संचालन शुरू नहीं हो पाया। आप्रेटरों का मानना है 50 सीटर बसों में 25 यात्री यानी 50 फीसदी सवारी ही बिठानी है। ऐसे में बस संचालकों को भारी नुकसान होगा। यह नुकसानी सरकार को उठाना चाहिए। बुधवार को बस स्टैंड पर परिचालक सामाजिक कल्याण संघ ने 12 सूत्रीय मांगों के लिए सात दिनी धरना शुरू किया।

अध्यक्ष दिनेश सेन, उपाध्यक्ष किशन राठौड़ व सचिव अजय जैन ने बताया कि चालक-परिचालक को कोरोना योद्धा मानें। अप्रैल से 6 माह तक हर परिवार को 7500 रुपए माह मिले। नि:शुल्क इलाज मिले। बीमारी में दो व मृत्यु पर पांच लाख मिले। प्रतिमाह 21 हजार वेतन मिले, 60 साल के बाद 10 हजार पेंशन मिले। श्रम कानूनों में संशोधन हो।

ऑपरेटर बोले- बसों के पहिए निकल चुके हैं
लॉकडाउन के बाद चार माह से बसें खड़ी है। उनके पहिए निकल चुके हैं। ऐसे में परिवहन विभाग चार माह का टैक्स मांग रहा है। इसे लेकर बुधवार शाम 6 बजे बस ऑनर्स यूनियन ने बैठक कर सरकार का विरोध किया है। पदाधिकारियों ने बताया कि चार माह बसों का संचालन ही नहीं हुआ तो टैक्स किस बात का देंगे। उन्होंने कहा कि बस संचालन को लेकर कोई चर्चा नहीं हुई है। 50 फीसदी सवारियों को बस में बैठाकर बसों के संचालन करने पर किराया में बढ़ोतरी होगी। पदाधिकारियों ने बताया कि सरकार टैक्स के लिए दबाव बना रही है।

बसों का छह माह का टैक्स माफ किया जाए। दूसरे राज्यों में टैक्स माफ किया है। इस दौरान पप्पू भाटिया, शैलेंद्र रघुवंशी, रणजीत डंडीर, विपिन गौर, कमल सोनी, तेजराजसिंह चौहान, ओम अग्रवाल, रिंकू गुप्ता, कमलेश चौहान आदि मौजूद थे। 

यह मांगें रखी

  •  लॉकडाउन के बाद सड़क परिवहन कैसा होगा, इसकी नीति  सरकार स्पष्ट करें
  • लॉकडाउन अवधि के बीमे की जमा प्रीमियम राशि की अवधि को आगामी 4 माह के लिए बढ़ाया जाए
  • अन्य प्रदेशों की तरह मप्र में भी टैक्स माफ करें सरकार 
  • चालक-परिचालको, हेल्परों को सरकार आर्थिक मदद पहुंचाएं

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज पिछली कुछ कमियों से सीख लेकर अपनी दिनचर्या में और बेहतर सुधार लाने की कोशिश करेंगे। जिसमें आप सफल भी होंगे। और इस तरह की कोशिश से लोगों के साथ संबंधों में आश्चर्यजनक सुधार आएगा। नेगेटिव-...

और पढ़ें