पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

प्रवचन:जैन संत स्थूल हिंसा के साथ सूक्ष्म हिंसा के भी होते हैं त्यागी

बैड़िया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शाम 4.30 बजे सनावद के लिए विहार करते समय आचार्यश्री प्रणाम सागरजी महाराज ने कहा-
Advertisement
Advertisement

सोमवार को बैड़िया से विहार करने से पूर्व आचार्य गुरुवर श्री 108 प्रणाम सागर महाराज ने आशीर्वचन में जैन समाज को आशीर्वाद देते हुए कहा समाज की एकता व गुरु के प्रति लगन काबिले तारीफ है। लॉकडाउन में भी देव, शास्त्र, गुरु का सान्निध्य प्राप्त हुआ। पूरे निमाड़ में बैड़िया को ही यह सौभाग्य मिला है।  आचार्यश्री ने बताया जैन संत स्थूल हिंसा के साथ-साथ सूक्ष्म हिंसा के भी त्यागी होते हैं। इनके अंदर करुणा, प्रेम, वात्सल्य का सरोवर सदा समाहित रहता है। जैन संत वाहन का उपयोग नहीं करते। वे सिर्फ पद विहार कर अपने गंतव्य तक पहुंचते हैं। सोमवार दोपहर 4.30 बजे आचार्य श्री प्रणाम सागर महाराज का विहार सनावद के लिए हुआ। 2020 का चौमासा सनावद में होगा। संत का सान्निध्य सनावद के समाजजनों को मिलेगा। अजय शाह व कल्याण जैन ने बताया सोमवार की आहारचर्या नरेंद्र कुमार जटाले के यहां हुई। शांति धारा करने का सौभाग्य अजय शाह व सचिन सनावद को प्राप्त हुआ।

आचार्यश्री का प्रवेश आज
सनावद में त्यागियों की खान कहे जाने वाले नगर सनावद में सोमवार को आचार्य श्री 108 पुष्पदंत सागर जी महाराज के सुशिष्य आचार्य श्री 108 प्रणाम सागर महाराज ससंघ नगर में मंगल प्रवेश मंगलवार को सुबह 8 बजे खरगोन रोड से होगा। सन्मति काका ने बताया आचार्यश्री 15 दिनों से बैड़िया में विराजित थे। नगर में चातुर्मास के लिए उनका आगमन होगा। मुनित्यागी समिति के अध्यक्ष मुकेश जैन ने सभी समाजजनों से आचार्यश्री की आगवानी करने का आह्वान किया। समाजजन सोशल डिस्टेंस का पालन कर मास्क लगाकर गुरुवर की आगवानी करेंगे।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर कोई विवादित भूमि संबंधी परेशानी चल रही है, तो आज किसी की मध्यस्थता द्वारा हल मिलने की पूरी संभावना है। अपने व्यवहार को सकारात्मक व सहयोगात्मक बनाकर रखें। परिवार व समाज में आपकी मान प्रतिष...

और पढ़ें

Advertisement