पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

24 घंटे में गोलीकांड का हुआ खुलासा:समूह सदस्य के साथ नाबालिग ने चलाई थी 4 गोलियां, घायल बैंककर्मी संक्रमित

खरगोन14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • वसूली कर्मचारी को गोली मार रकम लूटने का मामला, दोनों आरोपी खंडवा के मोहना से गिरफ्तार, नाबालिग ने अपनी कुरकुरे की दुकान को बड़ी करने के लिए किया कांड

गोगावां थाना क्षेत्र के रोडिया-छिर्वा के बीच बामनखोदरा क्षेत्र में शनिवार को आईडीएफसी फर्स्ट बैंक भीकनगांव के स्व सहायता समूह के वसूली कर्मचारी अमित पिता अनिल भावसार (23) निवासी बन्हेर बिस्टान से लूट व गोली मारने के आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिए हैं। पुलिस ने केवल 24 घंटे के अंदर ही समूह सदस्य व रोडिया के पास पंचर बनाने वाले मुख्य आरोपी व उसके नाबालिग साथी को पकड़ा है। दोनों से 26 हजार 500 रुपए, पिस्टल सहित अन्य सामग्री जब्त की है। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज से आरोपियों को पकड़ा है। एसपी शैलेंद्रसिंह ने घटना का खुलासा करते हुए बताया कि शनिवार को बैंक कर्मचारी अमित रोडिया व बांगा फालिया से किस्त वसूली कर भीकनगांव के लिए रवाना हुआ। रोडिया से ही चौराहे पर पहले से खड़े आरोपी मुकेश पिता रामलाल जमरे (32) व उसका नाबालिग साथी बाइक से पीछे निकले। आरोपियों ने बामनखोदरा क्षेत्र में अमित की बाइक की बराबरी की। यहां अमित को रोकने का इशारा किया। इसी दौरान मुकेश के साथ पीछे बैठे नाबालिग ने अमित पर 4 फायर कर दिए। चार इसमें दो गोलियां बैग में से निकलकर अमित की पीठ पर लगी। गोली लगने के बाद अमित बाइक सहित नीचे गिर गया। आरोपियों ने 26100 रुपए का बैग छीना और भीकनगांव के मोहना की ओर भाग निकले। करीब एक किमी तक अमित ने बाइक चलाकर पुल निर्माण में लगे कर्मचारी राकेश तक पहुंचा व अस्पताल भिजवाने की गुहार लगाई। शनिवार को इंदौर के निजी अस्पताल में अमित की हालत अब खतरे से बाहर बताई गई है। डॉक्टरों ने ऑपरेशन कर दो गोलियां निकाल ली है। एक गोली फेफड़ों तक जा पहुंची थी।

पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज व सदस्यों से पूछताछ की। रोडिया के तिराहे पर सीसीटीवी फुटेज में तीन लड़के दिखाई दिए। इसमें एक लड़का बाइक से उतरा और दो भीकनगांव की ओर रवाना हुए। दोनों की पहचान व बाइक नंबर के आधार पर मोबाइल लगाया। उनके मोबाइल बंद मिले। इसके बाद परिजनों से पूछताछ की तो वह सहयोग करने की बजाय बहानेबाजी करने लगे। इसके बाद आसपास के थाना क्षेत्र में चैकिंग पाइंट लगाए।

कारतूस 2.0 के आसपास होने के कारण पीठ में से फेफड़े के आसपास पहुंच गया
पूछताछ में मुकेश ने पुलिस को बताया अंबा के सिकलीगर चंदू से एक माह पहले पिस्टल व कारतूस खरीदे थे। पुलिस मामले में जांच कर रही है। पुलिस अफसरों को लगता है कि कारतूस 2.0 के आसपास होने के कारण पीठ में से फेफड़े के आसपास पहुंच गया। हालांकि उसे अभी भी इन्फेंक्शन बताया जा रहा है। डॉक्टरों की निगरानी में है। गोगावां टीआई दिलीप गंगराड़े ने बताया कि एक आरोपी की उम्र 16 साल से ज्यादा है। अफसरों से चर्चा कर उसे भी सजा के लिए प्रयास करेंगे। रविवार को न्यायालय में पेश करेंगे। कार्रवाई में एसडीओपी आरआर अवास्या, डीएसपी रामसिंह मेढ़ा, भीकनगांव टीआई संतोष सिसौदिया, रायसिंह गुंडिया, बहादुरसिंह, अर्चना डावर आदि का सहयोग रहा।

अमित ने आरोपियों को पहचान लिया था, इसलिए खत्म करने की कोशिस की
गोगावां टीआई के अनुसार आरोपी मुकेश समूह सदस्य है। उसकी पेट्रोल पंप के पास दुकान है। वह पंचर जोड़ता व कुरकुरे बेचता है। उसे लगा कि 1 लाख से ज्यादा की राशि होगी। इससे दुकान बड़ी करता। अमित समूह सदस्यों से वसूली कर भीकनगांव जाता था। इसकी मुकेश ने रैकी की। लूट में नाबालिग को शामिल किया। साजिश के तहत रोडिया से अमित का पीछा किया। बामणखोदरा में बैग छीनने का प्रयास किया। अमित ने पहचान लिया था तो उसे गोली मारकर खत्म करना चाह। घटना के बाद दोनों आरोपी भीकनगांव से 50 किमी दूर धनगांव थाना क्षेत्र के मोहना में मुकेश की बहन के घर पहुंचे। वह खंडवा की ओर जाने की फिराक में थे। इसके पहले पुलिस ने गिरफ्तार किया।

बेहोश हो रहा था अमित, एंबुलेंस नहीं आई तो खुद लाया अस्पताल
पुल निर्माण में काम कर रहे इंजीनियर व सुपरवाइजर राकेश चौहान मेनगांव ने अमित को समय पर अस्पताल पहुंचाकर जान बचाई है। राकेश ने कहा कि अचानक बाइक से घायल अमित मेरे पास पहुंचा। मैंने पूछा क्या हो गया तो उसने कहा मुझे पीठ पर दो गोलियां मारी है। मुझे पानी पिला दो। डॉक्टर को बुला लो। उसे पानी पिलाया। वह बेहोश होने लगा। मैंने तत्काल 108 को सूचना दी। उन्होंने मुझे कहा आप मरीज को लेकर आ जाओ। मैंने साइड पर काम कर रहे खैरनसिंह को साथ में लिया और अमित को बीच में बैठाकर भीकनगांव रवाना हुए। अमित के साथियों को फोन लगा दिया। 6 किमी के पास अमित के साथी पोखर के पास मिले। हम सभी उसे अस्पताल भिजवाया।

इधर... चाकू मारकर हत्या करने वाले आरोपी की जमानत निरस्त
झिरन्या में युवती की चाकू मारकर हत्या करने वाले आरोपी को अपर सत्र न्यायालय भीकनगांव ने जमानत निरस्त कर जेल भेज दिया है। 24 मई 2020 को भागीरथ पिता नारायण निवासी बंजारा टांडा झिरन्या ने पुलिस थाना चैनपुर पर रिपोर्ट दर्ज कराई उसकी लड़की अपनी बहनों के साथ रात में टहलने गई थी। वहीं घर के सामने रहने वाले सुनिल उर्फ चिंटू जो युवती पर बुरी नियत रखता था। उसने अंधेरे का फायदा उठाकर युवती को चाकू मार दिया। पुलिस थाना चैनपुर ने आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - धर्म-कर्म और आध्यामिकता के प्रति आपका विश्वास आपके अंदर शांति और सकारात्मक ऊर्जा का संचार कर रहा है। आप जीवन को सकारात्मक नजरिए से समझने की कोशिश कर रहे हैं। जो कि एक बेहतरीन उपलब्धि है। ने...

और पढ़ें