पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

समर्थन मूल्य खरीदी:5 दिन से बंद है मूंग खरीदी पोर्टल, केंद्रों पर 80 से ज्यादा वाहन खड़े, देना पड़ रहा भाड़ा

खरगोन7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
भीकनगांव केंद्र पर 5 दिन से खड़े हैं उपज के वाहन। - Dainik Bhaskar
भीकनगांव केंद्र पर 5 दिन से खड़े हैं उपज के वाहन।
  • ऑफलाइन खरीदी हो सकती थी, कृषि विभाग ने नहीं उठाया जोखिम
  • उपज लेकर खड़े वाहनों में उपज भीगने का डर, कुछ वापस ले गए

जिले में मूंग व उड़द की सरकारी खरीदी में किसान जूझ रहे हैं। इससाल 5451 किसानों ने पंजीयन कराकर जिले में स्थापित 5 केंद्रों पर बेच रहे हैं। लेकिन पिछले 5 दिन से खरीदी पोर्टल बंद है। पोर्टल मैंटेनेंस वर्क दिखा रहा है। किसान 2 दिन तक केंद्र पर पोर्टल शुरू होने का रास्ता देखने के बाद वाहन छोड़कर घर लौटना पड़ा है। उनके वाहनों का भाड़ा चल रहा है। खरगोन व भीकनगांव केंद्र पर 80 से ज्यादा वाहन पिछले 3 से 5 दिनों से खड़े हैं। कुछ उपज वापस लेकर आए।

जिन्होंने केंद्र पर वाहन छोड़े हैं उन्हें बारिश में उपज भींगने का डर भी है। किसानों ने ऑफलाइन खरीदी की मांग की थी लेकिन कृषि विभाग ने निर्देश न मिलने से जोखिम नहीं उठाया। विभागीय अफसरों का मानना है लगातार भोपाल बात की गई। ऑफलाइन खरीदी में बिल जनरेट नहीं होने पर किसानों के साथ विभाग की मुश्किल बढ़ने से ऐसा नहीं कर पाए। इस बात के निर्देश भी नहीं मिलने से किसी भी विकल्प पर काम नहीं कर पाए।

2 किसानों की परेशानी, किसी ने नहीं जानी

1. 3 दिन केंद्र पर रुके, वापस ले आए उपज
सेल्दा के किसान आनंदराम नरसिंग ने बताया 37 क्विंटल उपज के साथ 3 दिन से केंद्र पर अटके थे। पोर्टल शुरू होने का कोई नहीं बता रहा है। 35 किमी दूर सत्यम वेअर हाउस केंद्र खरगोन पहुंचे। 3 दिन का कुल 6000 रुपए भाड़ा लग गया। खरीदी शुरू हाेने पर फिर किराया लगेगा।

2. 5 दिन से केंद्र पर ही छोड़ रखा है वाहन
लालखेड़ा के किसान प्रेमलाल हुकुमचंद ने बताया 60 क्विंटल उपज लेकर पहुंचे थे। 6500 रुपए भाड़ा चुका चुके हैं। वाहन विनायक वेअर हाउस केंद्र भीकनगांव पर ही छोड़कर आए हैं। केंद्र 35 किमी दूर है।

पहली बार मूंग-उड़द की जिले में हो रही खरीदी
मूंग एवं उड़द की सरकारी खरीदी केंद्र सरकार के द्वारा वर्ष 2020-21 के लिए घोषित न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदी जा रही है। मूंग का न्यूनतम समर्थन मूल्य 7196 रुपए व उड़द का न्यूनतम समर्थन मूल्य 6000 रुपए प्रति क्विंटल है। 15 जून से एसएमएस भेजकर खरीदी के लिए किसानों को उपज के साथ बुलाया जा रहा है। 30 जुलाई तक खरीदी हाेना है।

सिर्फ पांच केंद्र, औसत दूरी भी 50-60 किमी
जिले में मूंग खरीदी के लिए 5 उपार्जन केंद्र बनाए गए हैं। कई किसानों के केंद्र 50-60 किलोमीटर दूरी पर हैं। खरगोन में सत्यम वेयर हाउस, विनायक वेयरहाउस भीकनगांव, मां नर्मदा वेयरहाउस बड़वाह, मंडी परिसर सनावद व करही उपार्जन केंद्र शामिल हैं।

5 दिन से है परेशानी

  • 5 दिन से जिला प्रशासन व कृषि विभाग की लापरवाही से किसानों की समस्या का हल नहीं निकाल पाए। ऑफलाइन भी खरीदी नहीं की। 5 दिनों से किसानों को वाहन भाड़ा चुकाना पड़ रहा है। -श्यामसिंह पंवार, जिलाध्यक्ष भारतीय किसान संघ

कल शुरू होने के आसार

  • पोर्टल का मेंटेनेंस वर्क चल रहा है। ऑफलाइन खरीदी के निर्देश नहीं हैं। अपने स्तर पर कुछ नहीं कर सकते हैं। बिल नहीं बनने से समस्या होगी। गुरुवार पोर्टल शुरू हो सकता है। ​​​​​​​ - एमएल चौहान, उपसंचालक कृषि
खबरें और भी हैं...