पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बड़वाह में पटवारी संघ ने ज्ञापन सौंपा:गांवों में नहीं मिलता है नेटवर्क, योजना की जानकारी ऑनलाइन दर्ज करने के लिए जाना पड़ता है तहसील

खरगोन15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पटवारी संघ ने सार्थक एप का किया बहिष्कार, सौंपा ज्ञापन

पटवारियों की ग्राम पंचायत मुख्यालय पर सार्थक एप पर लगने वाली उपस्थिति का पटवारियों ने बहिष्कार किया है। मंगलवार को तहसील परिसर में पटवारियों ने सार्थक मॉड्यूल के माध्यम से ऑनलाइन उपस्थिति अनिवार्य कराने संबंधित शासन के आदेश का विरोध जताते हुए आयुक्त के नाम तहसीलदार रंजना पाटीदार को ज्ञापन सौंपा। मप्र पटवारी संघ समिति के निर्देश पर बड़वाह तहसील संघ अध्यक्ष शैलेंद्र मिश्रा के नेतृत्व में संघ सदस्यों ने ज्ञापन दिया।

सोमवार व गुरुवार को पटवारियों की ग्राम पंचायत मुख्यालय पर उपस्थिति सारा एप पर सार्थक मॉड्यूल के माध्यम से ऑनलाइन दर्ज कराए जाने निर्देश दिए गए है। प्रयोग के तौर पर प्रदेश की दो तहसीलों बैरसिया जिला भोपाल व बदनावर जिला धार से शुरुआत की गई है। शैलेंद्र मिश्रा ने बताया प्रदेश में पटवारियों की पदस्थापना अधिकांश ऐसे स्थानों पर है। जहां मोबाइल इंटरनेट नेटवर्क उपलब्ध नहीं होता है या इंटरनेट कनेक्टिविटी नहीं है। पटवारियों द्वारा पीएम किसान व मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना का अद्यतन तथा अन्य ऑनलाइन कार्य इंटरनेट कनेक्टिविटी नहीं होने की वजह से जिला व तहसील मुख्यालयों मे आकर किया जाता है।

प्रदेश का प्रत्येक पटवारी अधिकांश विभागीय कार्य अपने निजी संसाधनों के माध्यम से करने को मजबूर है। लगभग तीन वर्ष पूर्व प्रदेश के पटवारियों को शासन द्वारा मोबाइल के लिए 7300 रुपए राशि प्रदान की गई थी। जिससे पटवारियों ने राशि के अनुसार मोबाइल क्रय किए। जो शासन द्वारा लिए जा रहे कार्य के लिए पर्याप्त नहीं है। इनमें से अधिकांश मोबाइल की वारंटी या तो समाप्त हो गई है या खराब हो चुके हैं। इसके बाद भी शासन द्वारा प्रदेश में लगभग 9 हजर पटवारियों की नियुक्ति की गई है। जिनमें से अधिकांश पटवारियों को आज तक मोबाइल नहीं दिए गए है।

मॉड्यूल को हटाने की मांग
ज्ञापन के माध्यम से आयुक्त, भू अभिलेख, मप्र शासन से मांग की गई है कि सार्थक मॉड्यूल को तत्काल हटाया जाए। पटवारियों की ऑनलाइन उपस्थिति संबंधी आदेश को निरस्त किया जाए। पटवारियों के वेतन से ही वृत्ति कर की अधिक कटौती व वार्षिक गोपनीय प्रतिवेदन समय से ना भरे जाने पर नाराजगी व्यक्त की। इस दौरान पटवारियों के संबंध में अन्य समस्याओं पर चर्चा भी की गई। ज्ञापन देने वालों में इस दौरान पटवारी पन्नालाल भालसे, संजय पाटीदार, कैलाश इटारे, मानसिंग गुर्जर, सेवकराम सोलंकी, दिनेश शिकारवार, अजय जैन, अंजना त्यागी, सुष्मिता गुप्ता सहित अन्य पटवारी मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने के लिए प्रयासरत रहेंगे। घर में किसी नवीन वस्तु की खरीदारी भी संभव है। किसी संबंधी की परेशानी में उसकी सहायता करना आपको खुशी प्रदान करेगा। नेगेटिव- नक...

    और पढ़ें