पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ये गलत बात है:अनाउंस के बाद कॉलेज परिसर में टूटा सोशल डिस्टेंस

खरगोन24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
नगर और ब्लॉक क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक हुई। - Dainik Bhaskar
नगर और ब्लॉक क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक हुई।
  • ऐसे तो टीका केंद्र ही फैलाएंगे कोरोना महामारी

अनलॉक की तैयारियों के साथ कारोबारियों को अल्टीमेटम दिया गया है कि वे टीका नहीं लगवाते हैं तो दुकान सील हो जाएगी। फल-सब्जी वाले ठेला नहीं लगा पाएंगे। दूधवाले दूध व हॉकर अखबार नहीं बांट पाएंगे। वैक्सीनेशन के लिए दबाव बनाया जा रहा है। जबकि प्रशासन स्तर पर व्यवस्थाएं बौनी साबित हो रही है। पिछले एक पखवाड़े से 18-45 आयु वर्ग के लोग वैक्सीन की कमी से केंद्रों से लौट रहे थे।

शहर में अनाउंसमेंट के बाद सभी टीका केंद्रों पर टूट पड़े। शनिवार को शहर के पीजी कॉलेज स्थित केंद्र पर भी ऐसे ही भीड़ उमड़ी। सोशल डिस्टेंसिंग तार-तार हो गई। ऐसा ही अन्य केंद्रों पर भी हुआ जब दिन में हर 10-15 मिनट पर ऐसी स्थिति बनी। भावसार मोहल्ला के पवन भावसार ने कहा कि एक सप्ताह पहले स्लॉट न होने पर आखिरी समय पर केंद्र से लौटा दिया था। अब केंद्रों पर ही निगरानी नहीं की जा रही है। ऐसे में महामारी बढ़ना तय है।

28 केंद्रों पर 4126 लोगों को लगाया टीका
शनिवार को जिले में संचालित 28 केंद्रों पर कुल 4126 व्यक्तियों को कोविड-19 का टीका लगाया गया। इनमें 60 वर्ष से अधिक आयु वाले 43 लोगों को पहला व 23 को दूसरा डोज लगाया गया। 45 वर्ष से अधिक के 610 व्यक्तियों को पहला डोज व 45 व्यक्तियों को दूसरा डोल लगाया गया।

18 से 44 वर्ष तक कुल 3290 व्यक्तियों को पहले डोज का टीका लगाया गया। इसी तरह हेल्थ केयर वर्कर के 7 कर्मियों को प्रथम व 1 कर्मी को द्वितीय डोज तथा फ्रंट लाईन वर्कर के 98 कर्मियों को प्रथम डोज व 9 कर्मियों को द्वितीय डोज का टीका लगाया गया।

खबरें और भी हैं...