पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सराहनीय पहल:मरीज भटके ना इसलिए गांव में बनाया कोविड सेंटर, 18 बेड की व्यवस्था की

बामंदी13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्राथमिक कोविड केयर सेंटर पर मरीजों का इलाज किया जा रहा है। - Dainik Bhaskar
प्राथमिक कोविड केयर सेंटर पर मरीजों का इलाज किया जा रहा है।
  • डॉक्टर नि:शुल्क सेवाएं दे रहे हैं, तीन मरीजों का चल रहा इलाज

कोरोना संक्रमण काल में अस्पताल में बेड नहीं मिलने से मरीज परेशान हो रहे हैं। इसे देखते हुए कुनबी पटेल सेवा समिति ने गांव में प्राथमिक कोविड केयर सेंटर शुरू किया है। शासकीय बालक आदिवासी छात्रावास में 18 बेड की व्यवस्था की गई है। मरीजों का प्रारंभिक इलाज भी शुरू कर दिया गया है।

यहां डॉ. अनिल पटेल नि:शुल्क सेवाएं दे रहे हैं। न्यूनतम मूल्य पर समिति दवाई-गोली उपलब्ध करवा रही है। अन्य डॉक्टरों ने भी सहयोग देने की बात कही है। डॉ. पटेल ने कहा वर्तमान में हर व्यक्ति को जीवन सुरक्षित व स्वस्थ रखने की चिंता सता रही हैं।

कई परिवारों को मेडिकल सहायता के लिए परेशान होना पड़ रहा है। अस्पतालों में जगह नहीं मिल पा रही है। इसे देखते हुए समिति सदस्यों ने यह कार्ययोजना बनाई। फिलहाल सेंटर पर 3 मरीजों का इलाज चल रहा है। स्वास्थ्य बेहतर हो है। गंभीर मरीजों को कसरावद रैफर किया जा रहा है। कोशिश है किसी भी मरीज को संक्रमण काल में भटकना ना पड़े। यहीं पर स्वस्थ होकर मरीज घर जाए। आगे भी सेवाएं देते रहेंगे।

सेंटर को लेकर एसडीएम को भी अवगत करवाया है। एसडीएम संघप्रिय ने कहा- सामान्य मरीजों को ही सेंटर पर रखे। ऑक्सीजन लेवल 93 से नीचे होने पर मरीज को तुरंत कसरावद कोविड सेंटर रैफर करें।

6 साल से काम कर रही समिति

कुनबी पटेल सेवा समिति 2015 से शिक्षा व स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में काम कर रही है। समिति सदस्यों ने कहा सेंटर पर 18 बेड की व्यवस्था की है। आवश्यकता होने पर बेड बढ़ाए जाएंगे। मरीजों की हरसंभव मदद की जा रही है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा व्यवहारिक गतिविधियों में बेहतरीन व्यवस्था बनी रहेगी। नई-नई जानकारियां हासिल करने में भी उचित समय व्यतीत होगा। अपने मनपसंद कार्यों में कुछ समय व्यतीत करने से मन प्रफुल्लित रहेगा ...

    और पढ़ें