• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • Khargone
  • The Selected Beneficiaries Were Given Ration, The Minister In Charge Said The Applications Of Problems Should Not Reach Us, The Officers Should Solve Them

अन्न उत्सव:चयनित हितग्राहियों को राशन दिया, प्रभारी मंत्री बोले- समस्याओं के आवेदन हम तक न आएं, अफसर करें निराकरण

खरगोन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अन्न उत्सव का जिला स्तरीय कार्यक्रम यहां कृषि उपज मंडी में हुआ। प्रभारी व कृषि मंत्री कमल पटेल ने चयनित 10 हितग्राहियों को 10-10 किलो राशन के बैग देकर प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का शुभारंभ किया। संबल व अन्य योजना के हितग्राहियों को चेक दिए। प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के ऑनलाइन कार्यक्रम के प्रसारण के बाद हितग्राहियों को संबोधित करते हुए प्रभारी मंत्री ने कहा सुशासन के तहत प्रदेश में कई योजनाएं चल रही है। इसका उद्देश्य लोगों को सीधा लाभ देना है।

जनकल्याणकारी योजनाओं को गरीबों, किसानों, कामगारों, बुजुर्गों व महिलाओं तक पहुंचाना है। आज गरीबों को भोजन देकर उनका सम्मान किया है। कलेक्टर से कहा समस्याओं के आवेदन हमारे पास नहीं आना चाहिए। अधिकारी-कर्मचारी घर-घर जाकर लोगों की समस्याएं सुने और निराकरण करें। जनप्रतिनिधि भी इसका ध्यान रखेंगे। उन्होंने कहा कहीं रेत उत्खनन हो रहा या अवैध शराब की बिक्री हो रही है तो विडियो बनाकर भेजे। कार्रवाई करवाएंगे। भाजपा जिलाध्यक्ष राजेंद्र राठौर, नप अध्यक्ष दीपक ठाकुर, कलेक्टर अनुग्रहा पी, एसपी शैलेंद्रसिंह चौहान सहित प्रशासनिक अमला, जनप्रतिनिधि व हितग्राही मौजूद थे।

राशन बांटते समय बेटी की चप्पल गिरी तो पहनाई

थैलों की कमी, कई हितग्राही घर से लाएं

जिला मुख्यालय की राशन दुकानों पर राशन वितरण किया। 10 किलो राशन निर्धारित थैले में दिया जाना था। लेकिन इनकी संख्या कम होने से कई हितग्राहियों ने घर से लाए थैलियों में राशन लिया। जिले की 542 राशन दुकानों पर उपभोक्ताओं की संख्या के हिसाब से थैले पहुंचना था। लेकिन पूर्वी क्षेत्र में हुई बारिश से 25 हजार ही पहुंचे। हर दुकान पर औसत 46 बैग ही मिल सके।

11.50 करोड़ की नल-योजना से 5 पंचायतों को मिलेगा पानी

प्रभारी मंत्री ने 11.50 करोड़ रुपए लागत की विधानसभा की 5 पंचायतों की नल-जल योजना का शिलान्यास किया। इससे पिपराड के 659, बिरुल के 480, झिरन्या के 1256, पाडल्या के 584 व अंबाडोचर के 435 परिवार लाभांवित होंगे। योजना के तहत पीएचई इन गांवों में नलकूप, पाइप लाइन, संपवेल व टंकी निर्माण कर घर-घर कनेक्शन देगी। मंत्री ने कहा घर-घर नल लगने पर महिलाओं को पानी लेने दूर नहीं जाना पड़ेगा। पीएचई एसडीओ प्रदीप द्विवेदी ने बताया 2024 तक नल-जल योजना के तहत पेयजल उपलब्ध करवाना है। योजना के तहत भीकनगांव तहसील के 33 ग्रामों के लिए 3462.84 लाख और झिरन्या तहसील के 51 गांवों के लिए 5437.14 लाख रुपए स्वीकृत है। भीकनगांव के 12301 और झिरन्या के 17309 परिवारों को शुद्ध पेयजल मिलेगा।

खबरें और भी हैं...