पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

प्रवचन:मां के मन में जैसे विचार, वैसे बच्चे का चरित्र निर्माण

खरगोन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आध्यात्मिक सत्संग व नामदान कार्यक्रम में बाबा उमाकांत महाराज ने कहा-

मनुष्य को हर हाल में शाकाहार अपनाना चाहिए। जीवन में सात्विक आहार हमारे विचारों को उन्नत करता है। हम स्वभाविक रूप से शांत होते हैं। क्रोध व हिंसा से मुक्त होकर हमारा जीवन परमशांति व परमानंद को प्राप्त होता है। जब तक हम जिंदा है अपने शुभ आचरण से सात्विक आहार से उसे निर्भय, चिंता मुक्त, निरोग, आंतरिक संतोष व हार्दिक प्रसन्नता से भर सकते हैं। ग्राम ढकलगांव के रेवागुर्जर मांगलिक भवन में आयोजित आध्यात्मिक सत्संग व नामदान कार्यक्रम में अनुयायियों को संबोधित करते बाबा जयगुरुदेव के आध्यात्मिक उत्तराधिकारी संत उमाकांत महाराज ने कहा। कार्यक्रम में हजारों श्रद्धालुओं ने शामिल होकर सत्संग व नाम दान कार्यक्रम का लाभ लिया। उमाकांत महाराज ने श्रद्धालुओं से मनुष्य जीवन में दायित्वों का निर्वहन कर लक्ष्य प्राप्ति का आह्वान करते हुए कहा शिशु जब मां के गर्भ में होता है तो उस वक्त मां के आसपास का वातावरण सकारात्मक व आध्यात्मिक होना आवश्यक है। उस वक्त मां के मन में जैसे विचार आएंगे बच्चे का चरित्र निर्माण उसी के अनुरूप होता है। सतयुग सत्य पर आधारित था। कलियुग को सबसे मलिन युग माना जाता है। इसमें बुराइयां हावी होती है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

    और पढ़ें