नियमों का उल्लंघन:तीन माह का नि:शुल्क राशन लेने के लिए दुकानों पर लग रही भीड़, नहीं हो रहा नियमों का पालन

नांद्रा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राशन लेने के लिए दुकान पर लगी लोगों की भीड़। - Dainik Bhaskar
राशन लेने के लिए दुकान पर लगी लोगों की भीड़।
  • लोगों ने कहा नियमों का पालन कर दुकानों को सीमित समय के लिए खोला जाए

कोविड संक्रमण के बढ़ते प्रभाव के कारण लॉकडाउन में नियमों का पालन नहीं किया जा रहा। कोरोना संक्रमण शहरों के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में तेजी से फैल रहा है लेकिन लोग नियमों की अनदेखी कर रहे हैं। राशन दुकानों पर 3 माह का राशन नि:शुल्क दिया जा रहा है। जिसके कारण हितग्राहियों की भीड़ दुकान में लग गई है। सोशल डिस्टेंस का पालन ना करते हुए लोगाें भीड़ लगा रहे हैं।

मप्र सहकारी समिति कर्मचारी संघ के जिला उपाध्यक्ष उदय सिंह पटेल ने बताया शासन ने सभी शासकीय कार्यालयों में कर्मचारियों की उपस्थिति 25 प्रतिशत से कम कर दी है। जिला सहकारी केंद्रीय बैंकों की शाखाओं में लेन देन का कार्य दोपहर 2 बजे तक व सहकारी संस्थाओं के कार्यालय में दोपहर 3 बजे तक अनिवार्य रुप से बंद करने के निर्देश दिए गए है।

कार्यालय खुले रहने पर पैनाल्टी करने के भी आदेश दिए गए। सहकारी संस्थाओं ने ही राशन दुकानों का संचालन किया जा रहा है। राशन दुकान संचालन का समय निर्धारित अवधि से बढ़ाकर राशन वितरण करना अनिवार्य किया गया है। राशन दुकानों पर ग्रामीणों की इतनी भीड़ लग रही। जिससे कोरोना संक्रमण तेजी से फैलने का अंदेशा है।

सेल्समेन व तुलावटियों को कोरोना योद्धा घोषित नहीं किया गया। यह निर्णय अप्रासंगिक है। पटेल ने जिला प्रशासन से मांग करते हुए कहा कोरोना संक्रमण कम होने तक राशन दुकानें बंद की जाएं। जिससे कोरोना संक्रमण ना फैले। सहायक खाद्य आपूर्ति अधिकारी अब्दुल नईम कुरैशी ने बताया राशन दुकान खोलने के लिए भोपाल से निर्देश प्राप्त हुए है। राशन दुकान को निर्धारित समय से कम करने के लिए खाद्य विभाग से आदेश नहीं मिला है।

खबरें और भी हैं...