पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अवैध कब्जा:खेत तक जाने वाले रास्ते पर अतिक्रमण किया, 7 साल से परेशान हो रहे किसान

किल्लौदएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सैमरूढ़ में तीन भाइयों को खेत तक पहुंचने के लिए पड़ोसी किसानों की करनी पड़ती है मिन्नत

सैमरूढ़ गांव के चचेरे तीन भाइयों को अपने खेत में जाने का सीधा रास्ता नहीं मिल रहा है। सात साल से खेत तक जाने के लिए सीधे रास्ता निकलवाने ये लाेग प्रशासन के पास आवेदन देकर भटक रहे हैं, लेकिन निराकरण नहीं हो पाया। प्रशासन ने रास्ते का अतिक्रमण अब तक नहीं हटाया है।

किसान किशन हजारी बंजारा, रामभरोस जवाहरिया बंजारा व कानसिंह भूरा बंजारा की संयुक्त खेती है। यहां तक जाने वाले सीधे रास्ते पर एक किसान ने अपने खेत की मेढ़ बढ़ाकर 2015 से अतिक्रमण कर रखा है। इस अतिक्रमण को हटाकर खेत तक जाने का रास्ता निकालने की मांग को लेकर तीनों किसान 7 सालों में कई बार राजस्व विभाग के अफसरों के किल्लौद एवं हरसूद में चक्कर भी लगा चुके हैं। किसान किशन बंजारा ने बताया कि अभी तक हमारे एक खेत पड़ोसी रिश्तेदार होने से कोई दिक्कत नहीं होती थी।

उनके खेत से होकर हम अपनी कृषि भूमि तक ट्रैक्टर, बैलगाड़ी सहित अन्य साधन से आसानी से पहुंच जाते थे। उनके द्वारा अपनी खेती बेचे जाने अब समस्या खड़ी हो गई है। खेत पर जाने के लिए गांव से दूर एक नाले से होकर जाना मजबूरी बन गया है।

एक बार फिर समस्या लेकर शुक्रवार को नायब तहसीलदार सहदेव मोरे से मुलाकात की। नायब तहसीलदार ने मौके का निरीक्षण कर निराकरण करने का आश्वासन दिया है। नायब तहसीलदार मोरे ने बताया मेरे पास किसान आज ही आवेदन लेकर आए हैं। पटवारी को जांच के निर्देश दिए हैं।

और इधर, रोजगार गारंटी योजना के तहत बनी है सड़क
दो माह में डेढ़ किमी सड़क के बीच ठेकेदार ने नहीं बनाई पुलिया, मुरम बिछाकर छोड़ा
किल्लौद ब्लॉक की ग्राम पंचायत भगवानपुरा में रोजगार गारंटी योजना के तहत दो महीने में बनने वाली कच्ची सड़क अधूरी है। बारिश में इस रोड से गुजरने वाली तीन हजार की आबादी परेशानी हाेगी। ठेकेदार ने दो महीने के भीतर दो पुलिया और सड़क का काम पूरा करने की बजाय मुरम डालकर छोड़ दिया है।

योजना के तहत 32 लाख की लागत से भगवानपुरा पंचायत की सोसायटी से पाटाखाल नाले तक कच्चा मार्ग बनाया जाना है। सड़क में पहली लेयर पर ही रोलर चलाया जाना था, लेकिन ऐसा नहीं किया। ग्रामीणों ने बताया इस रोड से किसान खेत व पास के गांव भुरला तक आना-जाना करते हैं।

पंचायत सचिव राजेश पटेल ने बताया सड़क का ठेका आत्माराम पटेल को दिया गया। सब इंजीनियर सलीम खान ने बताया रोजगार गारंटी के तहत सड़क का काम किया जा रहा है। काम न होने से बिल रोक दिया है। जल्द ही काम शुरू कर दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...