इंदिरा सागर परियोजना:धनवानी गांव में बैक वाटर में डूबने से दो बच्चों की मौत

किल्लौदएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

ग्राम धनवानी में मंगलवार को इंदिरा सागर परियोजना के बैक वाटर में डूबने से दो बच्चों की मौत हो गई। दोनों ही राजस्थान के गाडरवालों के डेरा परिवार के बच्चे हैं।  जानकारी के अनुसार धनवानी के पास बैक वाटर पर गाडरवालों के डेरे में से एक महिला दोपहर करीब साढ़े 12 बजे दो बच्चों के साथ कपड़े धोने पहुंंची। महिला सीताबाई पति शिवाजी के साथ उसका बेटा श्रवण (9) और भतीजा कल्ला पिता बाबू (8) भी था। महिला कपड़े धोने में व्यस्त हो गई और दोनों ही बच्चे बैक वाटर के नजदीक ही पानी में खेलने लगे। धीरे-धीरे दोनों ही गहरे पानी में नहाने चले गए। इस दौरान दोनों ही पानी में डूब गए। सीताबाई ने दोनों को पानी में डूबते देखते ही चिल्लाकर मदद मांगी। करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से दोनों के शव गहरे पानी से बाहर निकाले। एएसआई उमेशसिंह राजपूत ने बताया कि दोनों ही मृतक बच्चे मूलरूप से राजस्थान के जालोर जिले के निवासी थे। उनका परिवार गाडर चराने का काम करता है। ग्रामीणों के मुताबिक चार दिन पहले ही इनका डेरा यहां पहुंचा है।

खबरें और भी हैं...