पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पहली बार मातोश्री व पूर्वजों के पिंड बनाकर किया तर्पण:226वीं पुण्यतिथि, श्राद्ध अमावस्या के संयोग पर राजपुरोहित ने करवाया पूजन

महेश्वर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पूजन के बाद पिंड नर्मदा में विसर्जित किए। - Dainik Bhaskar
पूजन के बाद पिंड नर्मदा में विसर्जित किए।

देवी अहिल्याबाई होल्कर की 226वीं पुण्यतिथि सोमवार को सादगी व सौहार्द से मनाई। सुबह व शाम को राजवाड़ा से बस स्टैंड स्थित प्रतिमा स्थल तक पालकी यात्रा निकाली गई। सोमवार को मातोश्री की पुण्यतिथि व श्राद्ध अमावस्या का संयोग बना। पहली बार नर्मदा तट के अहिल्येश्वर मंदिर परिसर में मातोश्री, उनकी सास गोतमाबाई व पड़सास गंगाबाई होलकर के पिंड बनाकर तर्पण किया गया।

युवराज यशवंतराव होलकर व इंदौर से आए चंद्रकांत होलकर ने राजपुरोहित विजय राजोपाध्याय की उपस्थिति में पूजन किया। 11 विद्वान ब्राह्मणों ने मंत्रोच्चार के साथ तर्पण की विधि पूरी करवाई। पूजन के बाद दोपहर 2 बजे नर्मदा में पिंड विसर्जन कर श्रद्धांजलि दी गई। सांस्कृतिक सलाहकार संदीप दहिसरकर मौजूद थे। मातोश्री की पुण्यतिथि पर क्लिनिक का शुभारंभ भी हुआ। यहां बुधवार व शुक्रवार को शाम 5 से 7 बजे तक पीड़ितों का निशुल्क उपचार होगा।

राज परिवार ने भी निकाली पालकी
शाम को होलकर परिवार ने राजवाड़ा परिसर में पूजन के बाद मातोश्री की पालकी निकाली। यहां हर सोमवार को शाम 5.30 बजे राजवाड़े से पालकी निकालने की परंपरा है। पुण्यतिथि व परंपरा के अनुसार युवराज यशवंतराव होलकर व अन्य लोग पालकी लेकर राजराजेश्वर मंदिर पहुंचे। यहां दर्शन के बाद पालकी वापस राजवाड़ा लाई गई।

राजगादी व दहनस्थल पर हुआ पूजन
मातोश्री की पुण्यतिथि पर सुबह राजवाड़े से पालकी बस स्टैंड स्थित प्रतिमा स्थल पहुंची। सुबह 8.30 बजे विधायक डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ, एसडीएम ओमनारायणसिंह, देवी अहिल्या स्मृति सेवा संस्थान के पदाधिकारी दिलीप सोनी, जितेंद्र नेगी, नगर परिषद अध्यक्ष प्रतिनिधि हेमंत जैन, सीएमओ राजेंद्र मिश्रा आदि ने प्रतिमा पर माल्यार्पण किया।

संस्थान सदस्य व जनप्रतिनिधि पालकी लेकर राजवाड़ा स्थित राजगादी पहुंचे। राजगादी पर युवराज यशवंतराव होलकर व अन्य ने खासगी ट्रस्ट के स्थानीय प्रबंधक संजय रावत व पुजारी विनायक शास्त्री व मनोहर तिवारी की उपस्थिति में पूजन कर मिष्ठान्न का भोग लगाया।

संस्थान सदस्यों व जनप्रतिनिधियों ने नर्मदा तट स्थित देवीश्री के दहन स्थल पर भी माल्यार्पण किया। मनोज पाटीदार, सचिन शर्मा, राजेंद्र जैन आदि मौजूद थे। कोरोना महामारी के कारण इस साल अहिल्याेत्सव का कार्यक्रम भी संस्थान ने नहीं मनाया।

खबरें और भी हैं...