पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को मिले सिविल अस्पताल का दर्जा:कोरोना व क्षेत्रफल को देख फिर उठी मांग, ताकि मरीजों को मिल सके सुविधा

महेश्वरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र। - Dainik Bhaskar
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र।

नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के सिविल अस्पताल में उन्नयन की फिर मांग उठने लगी है। इससे पहले भी नगर के लोगों ने स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारियों के माध्यम से जिला व प्रदेश स्तर पर पत्र व्यवहार किया था। उन्नयन होता है तो कोरोना महामारी के दौरान लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मिल सकेगी।

केके पुराेहित व एडवोकेट जितेंद्र नेगी ने बताया अस्पताल के उन्नयन का मुख्य उद्देश्य मरीजों को बेहतर चिकित्सा सुविधा के लिए प्रयास करना है। आज परिस्थिति विकट है। कोविड के मरीज बढ़ते जा रहे है। इनके हिसाब से यहां डॉक्टर, स्टाॅफ़ व उपकरणों की कमी है।

इसलिए अस्पताल के उन्नयन के आदेश सरकार शीघ्र करें। उन्नयन को लेकर सभी शासकीय औपचारिकताएं पिछले सालों में पूरी हो चुकी है। आवश्यक दस्तावेज भोपाल सचिवालय में बीएमअो व सीएमएचओ ने कलेक्टर के माध्यम से भेजे है।

इन प्रस्तावों पर जनप्रतिनिधियों के साथ विधायक डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ की अनुशंसा है। तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ व वर्तमान मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान को ज्ञापन दिया जा चुका है। दिलीप महंत, राजेंद्र जैन, मनोज पाटीदार व समाजसेवी पुरुषोत्तम गुप्ता ने कहा उन्नयन होने से सिविल अस्पताल के नार्म्स के अनुसार 100 बेड, डॉक्टर, नर्स, अन्य स्टाॅफ, कई जरूरी उपकरण व चिकित्सा सुविधा मिलेगी।

कोरोना में लोग दे रहे आर्थिक मदद

कोरोना महामारी को लेकर नगर व क्षेत्र के लोग आर्थिक सहयोग दे रहे है। रोगी कल्याण समिति के माध्यम से बनने वाले 40 लाख रुपए के ऑक्सीजन प्लांट के लिए करीब 55 लाख रुपए एकत्रित हो चुके है। इससे अस्पताल के 40 बेड के लिए 24 घंटे ऑक्सीजन सुविधा मिल सकेगी। 40 से 50 ऑक्सीजन सिलेंडर भी प्लांट के माध्यम से भरे जा सकेंगे। समाजसेवी संस्थाएं, जनप्रतिनिधि व अन्य लोग भी आगे आ रहे है।

सांसद गजेंद्रसिंह पटेल ने अस्पताल में 10 लाख रुपए से आईसीयू निर्माण की घोषणा की। विधायक डॉ. साधौ ने ऑक्सीजन प्लांट के लिए 11 लाख और कंसंट्रेटर मशीन, ऑक्सीजन सिलेंडर व अन्य स्वास्थ्य संसाधन के लिए 10 लाख रुपए दिए है। महामारी के पीड़ितों के लिए अब तक 5 से अधिक ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीन, निजी तौर पर 5 लाख रुपए की एंबुलेंस सुविधा व अन्य स्वास्थ्य सामग्री उपलब्ध करवाई है। आगामी समय में सिविल अस्पताल बनने पर नगर सहित क्षेत्र के लोगों, श्रद्धालु व पर्यटकों को भी स्वास्थ्य सुविधा का लाभ मिल सकेगा।

खबरें और भी हैं...