पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बना रहे थे हमले की योजना:वन अमले और पुलिस की दबिश में 4 आरोपी गिरफ्तार, 6 फरार

नेपानगर24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • आरोपियों से बंदूक, तीर, कमान, हसिया, पत्थर और बाइक की जब्त
  • खंडवा, खरगोन, बुरहानपुर के चारों आरोपी, कुछ बड़वानी से भी आए थे

वन परिक्षेत्र नावरा रेंज की डेहरिया बीट के कक्ष क्रमांक 260 में दबिश देकर नेपानगर वन विभाग और पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। जबकि 6 आरोपी मौके से फरार हो गए। यह मानकेरिया अतिक्रमण सेंटर में वन अमले सहित प्रशासनिक फोर्स पर हमले की योजना बना रहे थे। वन अफसरों ने मौके से बंदूक, तीर, कमान, हसिया, पत्थर सहित अन्य हथियार जब्त किए हैं। वन विभाग के अनुसार मानकेरिया में करीब सात अवैध झोपड़ियां बनी हुई हैं। इनमें रहने वाले कुछ लोगों ने वनाधिकार अधिनियम के तहत पट्टे के लिए आवेदन दिए हैं, जिसे स्वीकृत नहीं किया है। इसी तरह भीलखेड़ी में भी कुछ टपरियां बनी है। यहां के अतिक्रमणकारी खंडवा, खरगोन और बड़वानी के रिश्तेदारों को बसाने की तैयारी में थे। बारिश से पहले हर साल यह कवायद तेज हो जाती है, क्योंकि इस दौरान खेत भी तैयार किए जाते हैं।

इसी उद्देश्य से शनिवार को ही खंडवा, खरगोन, बड़वानी और बुरहानपुर के करीब 15 से अधिक अतिक्रमणकारी एकजुट हुए। नावरा रेंज की डेहरिया बीट के कक्ष क्रमांक 260 मानकेरिया अतिक्रमण सेंटर में वन विभाग पर हमले की योजना बना रहे थे। मुखबिर को भनक लगी तो उसने अफसरों को सूचना दी। वन विभाग ने पुलिस की मदद से एक टीम बनाई। शाम को दबिश देने के लिए जैसे ही अमला पहुंचा, वाहनों की आवाज सुन 6 आरोपी फरार हो गए।

मौके पर अमले ने चार आरोपियों को हिरासत में लिया। छानबीन में एक भरमार बंदूक, एक तीर कमान, एक बड़ी कुल्हाड़ी, एक बड़ा हसिया, पत्थर, 4 बाइक जब्त की। यहां से आगे भीलखेड़ी में भी दबिश देकर 5 बाइक जब्त की गई। यहां से कुछ आरोपी फरार हो गए। आरोपियों में दो खंडवा, खरगोन के रहने वाले हैं। जबकि दो नेपानगर बाकड़ी और मानकेरिया सेंटर के हैं। पूछताछ में आरोपी बोले भागे 6 लोग हमारे यहां मेहमान आए थे।

वन अफसरों ने पूछा अगर मेहमान थे, तो भागे क्यों। फरार आरोपियों में बड़वानी के कुछ जेल से छूटे भी थे। मौके से जब्त तीन बाइक पर नंबर नहीं है। कार्रवाई में नावरा रेंजर विमला मुवेल, नेपा रेंजर मयंक पांडे, डिप्टी रेंजर जलील खान, सिद्धार्थ मेढ़े, रजनीश ठाकुर और नेपा थाना पुलिस टीम शामिल थी।

जंगलों में बारिश से पहले हर साल अतिक्रमण करने की कवायद तेज हो जाती है, क्योंकि इसी दौरान खेत भी तैयार किए जाते हैं

खंडवा के ग्राम भीलखेड़ी के ध्यानसिंग पिता पिरला, वन ग्राम बाकड़ी के रणजीत पिता लालसिंग बारेला, मानकेरिया अतिक्रमण सेंटर के बदरिया पिता उना, खिरकिया के सेंद्रियाघाटी के रिंदा पिता धनसिंग को गिरफ्तार किया है।

बड़े हमले की तैयारी कर रहे थे। उनका असलहा पूरी तरह जमा नहीं हो पाया था। दबिश देकर योजना को फेल कर दिया। सभी के खिलाफ वन अधिनियम, नेपा थाना पुलिस ने आर्म्स एक्ट में केस दर्ज किया है।

-मयंक पांडे, रेंजर, नेपानगर

खबरें और भी हैं...