पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

पिता ने कहा...:साहब- मेरा बेटा आत्महत्या नहीं कर सकता

नेपानगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पटवारी आत्महत्या मामले में हुए 7 परिजनाें के बयान

पिछले मंगलवार को ग्राम दाहिन्दा स्थित पटवारी कार्यालय में पटवारी गणेश उईके ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। आठ दिन बाद पुलिस ने मृतक के 7 परिजन को बयान के लिए देडतलाई पुलिस चौकी बुलाया। जहां मृतक के पिता लक्ष्मण उईके ने चौकी प्रभारी हंसकुमार झंझोरे से कहा साहब मेरा बेटा आत्महत्या नहीं कर सकता। इस बयान के बाद मामले में नया मोड आ गया है, क्योंकि रविवार को आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पटवारी की मौत का कारण फांसी लगने से होना बताया गया है, लेकिन अब पिता द्वारा आशंका जताए जाने के बाद पुलिस हर पहलु से मामले की जांच करेगी। मंगलवार को पटवारी के पिता लक्षण उईके सहित मां रामकुंवर बाई सहित पत्नी रूपाली सहित अन्य परिजन विवेक उईके, अनोखीलाल धुर्वे, अरविंद परते, रोहित इवने के बयान चौकी प्रभारी हंसकुमार झंझोरे ने लिए। मृतक का एक मोबाइल अब भी परिजन के पास ही है जिसे जब्त नहीं किया गया है।

तीन दिन पहले हुए हमले के कारण गहराई शंका
गौरतलब है कि आत्महत्या से करीब तीन दिन पहले ही पटवारी पर जानलेवा भी हमला हुआ था। जिसके बाद उसने मीडिया में भी बयान दिया था कि उस पर एक ट्रैक्टर ट्राली चालक ने वाहन चढ़ाने का प्रयास किया। कार्यालय के साथियों को भी उसने यह बात बताई थी और बोला था कि आज तो मेरी जान बच गई। मृतक पटवारी जो सुसाइड नोट छोड़कर गया है उसमें उसने नौकरी के कारण परिवार को समय नहीं दे पाने की बात भी लिखी थी। उसकी मौत के बाद यह जानकारी सामने आई थी कि वह तीन महीने से घर नहीं गया था और कार्यालय में ही सोता था।

^ मंगलवार को मृतक पटवारी के परिजन के बयान लिए गए हैं। उसके पिता ने कहा है कि मेरा बेटा ऐसा नहीं कर सकता। इसलिए सभी पहलुओं को ध्यान में रखते हुए जांच की जा रही है। - हंसकुमार झंझोरे, चौकी प्रभारी देडतलाई

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिवार में प्रॉपर्टी या किसी अन्य मुद्दे को लेकर जो गलतफहमियां चल रही थी आज वह किसी की मध्यस्थता से दूर होंगी। जिसकी वजह से परिवार का माहौल शांतिपूर्ण हो जाएगा। घर में नवीनीकरण या परिवर्तन सं...

और पढ़ें