पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • 13 Thousand Rupees To ASI Of Pandhana Agricultural Produce Market. Caught Taking A Bribe; Illegal Recovery From Gall Trader In The Name Of SDM

खंडवा में लोकायुक्त की कार्रवाई:पंधाना कृषि उपज मंडी का ASI गल्ला व्यापारी से 13 हजार रु. की रिश्वत लेते धराया, मंडी सचिव को देना थे 5 हजार; तीन पर केस दर्ज

खंडवा12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कार्यालय कृषि उपज मंडी पंधाना, जहां लोकायुक्त ने दबिश दी। - Dainik Bhaskar
कार्यालय कृषि उपज मंडी पंधाना, जहां लोकायुक्त ने दबिश दी।

मंगलवार को इंदौर लोकायुक्त टीम ने खंडवा में कार्रवाई करते हुए एक मंडी एएसआई को रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा है। पंधाना कृषि उपज मंडी में पदस्थ ASI सुनिल वास्कले ने गल्ला व्यापारी महेंद्र अग्रवाल से 13 हजार रुपए की रिश्वत ली। इसमें से 5 हजार रुपए मंडी सचिव को देना थे। लोकायुक्त ने 3 सहायक उपनिरीक्षकों पर केस दर्ज किया है।

लोकायुक्त डीएसपी प्रवीण कुमार बघेल के मुताबिक, गल्ला व्यापारी महेंद्र अग्रवाल निवासी बाेरगांव बुजुर्ग की शिकायत पर कार्रवाई की है। सुबह 10 बजे के करीब पंधाना कृषि उपज मंडी कार्यालय में पदस्थ सहायक उप निरीक्षक सुनिल वास्कले को 13 हजार रुपए की रिश्वत लेते पकड़ा है।

आरोपी सहायक उप निरीक्षक सुनिल वास्केल।
आरोपी सहायक उप निरीक्षक सुनिल वास्केल।

रिश्वतकांड का यह है पूरा मामला

फरियादी ने शिकायत में बताया कि, शासन द्वारा निर्धारित नियमों के आधार पर व्यापारियों को वर्ष 2020 में उनके स्थान से कृषि उपज क्रय हेतु क्रय केंद्र के मंडी लाइसेंस दिए गए थे, जिसकी समयावधि निर्धारित नहीं थी। जिस पर उनके द्वारा कृषि उपज क्रय कर मंडी टैक्स भी चुकाया गया था। पोर्टल 31 जून 2020 को बिना सूचना के बंद हो जाने से उनका कुछ कृषि उपज विक्रय हेतु रह गया था। फिर दोबारा मंडी शुल्क जमा कर उपज विक्रय की।

कृषि उपज मंडी के तीनों सहायक उपनिरीक्षकों ने गाेदाम का स्टॉक चेक किया। इस दौरान 141 क्विंटल मक्का अतिरिक्त मिला। जिसके लिए सहायक उप निरीक्षकों द्वारा रिश्वत के रूप में 80 हजार रुपए मांगे गए। जिसकी सूचना लोकायुक्त एसपी इंदौर को दी। बातचीत के दौरान 15 हजार में लेनदेन तय हुआ। एएसआई को तीन-तीन हजार व मंडी सचिव को 5 हजार रुपए देना निर्धारित थे।

3 अफसरों पर लोकायुक्त ने दर्ज किया केस

मंगलवार को लोकायुक्त कार्रवाई में मंडी कार्यालय में सुनील वास्कले को 12 हजार रुपए की रिश्वत लेते ट्रैप किया। 2 हजार रुपए की राशि दूसरा आरोपी शुभम सोनी पूर्व में ले चुका था। 1 हजार रुपए की राशि कार्रवाई से पहले रिश्वत देते समय डीजल भरवाने के नाम पर आवेदक ने कम करा ली। लोकायुक्त पुलिस ने मंडी सहायक उप निरीक्षक अरविंद मंडलोई, शुभम सोनी व सुनील वास्कले के विरुद्व भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा 7, 13 (1) बी,120 (बी) आईपीसी के तहत प्रकरण दर्ज कर मामला विवेचना में लिया है।

खंडवा में पुलिस हिरासत में मौत:बाइक चोरी के आरोपी को थाने पूछताछ के लिए ले आई थी पुलिस, 4 पुलिसकर्मी सस्पेंड; गृहमंत्री बोले- उसे सांस की बीमारी थी

खबरें और भी हैं...