• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • 1.80 Crore Rs. Tender Not Approved By The Approved Tap water Scheme, MLA Said Will Start Work Soon After The Tender

पेयजल संकट:1.80 करोड़ रु. की स्वीकृत नल-जल योजना के नहीं हुए टेंडर, विधायक बोले - टेंडर के बाद जल्द शुरू कराएंगे काम

बीड़6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पेयजल संकट की वजह से दूर से पानी ला रहे। - Dainik Bhaskar
पेयजल संकट की वजह से दूर से पानी ला रहे।
  • गांव का ट्यूबवेल सूख जाने के कारण पानी की किल्लत बढ़ी

पुनासा जनपद की ग्राम बीड़ में गर्मी शुरू होते ही पेयजल की किल्लत शुरू हो चुकी है। यहां 40 वर्ष पुरानी पाइप लाइन होने के कारण नलों में पानी नहीं आ रहा है। इससे ग्रामीणों को पेयजल के लिए परेशान होना पड़ रहा है। लोगों की समस्या को देखते हुए विधायक नारायण पटेल ने 1 महीने पहले 1. 80 करोड़ की नल जल योजना स्वीकृत कराई थी, लेकिन टेंडर नहीं होने से योजना का काम शुरू नहीं हो पाया है।

पुनासा ब्लॉक की सबसे बड़ी पंचायत होने के बाद भी बीड़ गांव में मूलभूत सुविधाओं की कमी है। गांव में पेयजल सप्लाय के लिए 40 साल पुरानी पाइप लाइन डली है। सिर्फ दो ट्यूबेल है। इससे स्टेशन और दूसरे से दुर्गा मंदिर की ओर पानी सप्लाई होती है। लेकिन गर्मी में जलस्तर कम होने से यह भी दम तोड़ देते है। इस कारण लोगों को पानी के लिए भटकना पड़ रहा है। इससे पहले मांधाता विधायक ने करोड़ों रुपए की हर ग्राम पंचायत में नल जल योजना के लिए स्वीकृत किए , लेकिन बीड़ पंचायत को इससे वंचित रखा।

लोगों के आक्रोश को देखते हुए 1 महीने पहले विधायक पटेल ने 1. 80 करोड़ स्वीकृत कराए। लेकिन अभी तक टेंडर नहीं हुए। ग्राम पंचायत ने कई बार पीएचई विभाग को प्रस्ताव बनाकर भी दिया है पर पीएचई ने कोई कार्रवाई नहीं की। सरपंच बालकृष्ण अग्रवाल ने बताया कि ट्यूबवेल में कुछ पाइप और डालना है लेकिन लॉकडाउन के कारण पाइप ला नहीं पा रहा हूं। पाइप के डालने पर कुछ समस्या दूर हो सकती है। इधर सरपंच अग्रवाल ने नल जल योजना की स्वीकृति पर विधायक पटेल का आभार व्यक्त किया है।

जितना पानी मिलता था वह भी बंद हो गया

रविवार को ट्यूबवेल की मोटर जल जाने से समस्या और बढ़ गई। अभी तक ग्रामीणों को जितना पानी मिल रहा था अब वह पानी मिलना बंद हो गया। समस्या को देखते हुए ग्राम पंचायत ने मोटर बाहर निकालकर सुधार के लिए भेज दी। इधर पानी के लिए हैंडपंप और कुआं पर ग्रामीणों की भीड़ लग रही हैं।

गांव में पानी की समस्या नहीं होने देंगे

बीड़ पंचायत में भी नल जल योजना के 1.80 करोड रुपए स्वीकृत करवाए हैं। इसके लिए जल्द टेंडर होंगे। इसके बाद भी ग्राम में पानी की समस्या नहीं आएगी यदि आती है तो पीएचई विभाग को बोलकर समस्या का समाधान कराया जाएगा।
नारायण पटेल, मांधाता विधायक

खबरें और भी हैं...