पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसान कल्याण योजना:400 को ही मिला खाना, 4.30 घंटे तक भूखी बैठी रहीं 500 से अधिक महिलाएं

खंडवा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • किसानों से ज्यादा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता-सहायिकाओं की भीड़

किसानों के लिए आयोजित कार्यक्रम में किसान कम, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता-सहायिका, समूह की महिलाओं, ग्राम कोटवार व पंचायत सचिवों की संख्या अधिक रही। कुर्सियां कम पड़ गईं तो किसानों को खड़े रहना पड़ा, जबकि कई महिलाओं को जमीन पर बैठना पड़ा। यही नहीं, एक हजार से अधिक की भीड़ में 400 लोगों को ही खाना बांटा, 500 से अधिक महिलाएं 4.30 घंटे भूखी प्यासी बैठी रहीं, क्योंकि उन्हें खाना नहीं मिला। कुछ किसानों को तो मांगने पर खाना मिला। शनिवार को कलेक्टोरेट परिसर में मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना का कार्यक्रम हुआ। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने सागर जिले से ऑनलाइन संबोधित किया। कार्यक्रम के लिए किसानों की जगह आंगनवाड़ी कार्यकर्ता-सहायिका, स्व सहायता समूह की महिलाओं, ग्राम कोटवार, पंचायत सचिवों की भीड़ बुलाई गई। किसान गिनती के पहुंचे थे। कार्यक्रम का समय 1.30 बजे था, जबकि सभी को सुबह 11 बजे से बुला लिया गया। भीड़ इतनी बुलाई गई कि कुर्सियां कम पड़ गईं। सुबह 11 से दोपहर 3.30 बजे तक महिला एवं पुरुषों को भोजन नहीं दिया गया। कार्यक्रम खत्म होने पर खाने के 400 ही पैकेट बांटे गए, जबकि कार्यक्रम में एक हजार से अधिक महिला एवं पुरुष शामिल थे। कार्यक्रम में अपर कलेक्टर एसएल सिंघाडे, एसडीएम संजीव पाण्डेय, डिप्टी कलेक्टर अशोक जाधव, भाजपा जिलाध्यक्ष सेवादास पटेल, कृषि, सहकारिता, उद्यानिकी विभाग के अधिकारी सहित भाजपा के पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद थे।

27,227 किसानों के खातों आनी थी राशि
विधायक वर्मा ने कहा जिले में 27 हजार 227 किसानों के खाते में 2 हजार रु. प्रति किसान के हिसाब से 5 करोड़ 44 लाख 54 हजार रु. का भुगतान किया जाना है। पीएम किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत जिले में कुल 2,38,514 खाते अपलोड हो चुके हैं, जिनमें अपलोडेड पात्र 1,44,205 में से 1,41,250 किसानों को भुगतान किया जा चुका है। इसी प्रकार मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना अंतर्गत कुल लक्ष्य 1,34,721 में से 1,25,064 किसानों का सत्यापन कर 3 दिसंबर 2020 को 9989 किसानों को 1 करोड़ 99 लाख 78 हजार रु. का भुगतान किया जा चुका है।

कोटवार बोले- पता नहीं इन्हें क्यों बुलाया
कार्यक्रम में आई कार्यकर्ताओं, सहायिकाओं, समूह की महिलाओं, कोटवारों ने बताया उन्हें कार्यक्रम में शामिल होने के निर्देश मिले थे, इसलिए आ गए। यहां क्या कार्यक्रम होना था, पता नहीं था।

एक दिन पहले परेशान हुए, दूसरे दिन नहीं आए
कार्यक्रम शुक्रवार को होना था। किसान कलेक्टोरेट पहुंचे भी थे, लेकिन कार्यक्रम शनिवार को कर दिया गया। अपने खर्च पर कार्यक्रम के लिए आए किसान अफसरों को कोसते रहे और वापस लौट गए।

^ जिला प्रशासन लगातार सोशल डिस्टेंस का पालन कराता आ रहा है। कार्यक्रम में कई लोगों ने इसका पालन नहीं किया। कुछ लोगों को खाना नहीं मिलने की सूचना मिली थी, अंत में जो बचे थे, उन्हें खाना दिया। - एसएल सिंघाड़े, एडीएम

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आसपास का वातावरण सुखद बना रहेगा। प्रियजनों के साथ मिल-बैठकर अपने अनुभव साझा करेंगे। कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा बनाने से बेहतर परिणाम हासिल होंगे। नेगेटिव- परंतु इस बात का भी ध...

    और पढ़ें