पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पहली बार वेटिंग वाले 25 युवाओं लगाया टीका:6 दिन में लक्ष्य के तहत केंद्र पर नहीं आने वाले युवाओं के कारण खराब हुए 85 डोज

खंडवाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जिला अस्पताल के टीकाकरण केंद्र पर युवा को वैक्सीन लगाती स्टाफ नर्स। - Dainik Bhaskar
जिला अस्पताल के टीकाकरण केंद्र पर युवा को वैक्सीन लगाती स्टाफ नर्स।

18 से 44 साल के युवा लक्ष्य के मुताबिक सेंटर्स पर टीकाकरण के लिए नहीं आ रहे थे। जिसके कारण पिछले 6 दिनों के टीकाकरण के दौरान वैक्सीन के 85 डोज खराब हो गए। शनिवार को 6 केंद्रों पर बचे 25 डोज लगाने के लिए पहली बार स्वास्थ्य विभाग ने वेटिंग के युवाओं को बुलाया। जिसके साथ टीकाकरण में 100 फीसदी लक्ष्य हासिल कर लिया।

शनिवार को जिला अस्पताल के बी-ब्लॉक के दो, सरस्वती शिशु मंदिर वैकुंठनगर में दो, आनंद नगर और गुरुनानक स्कूल में एक-एक केंद्र पर टीकाकरण हुआ। जहां पर 630 युवाओं ने कोरोना वैक्सीन का पहला डोज लगवाया। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ.अनिल तंतवार ने बताया लक्ष्य के तहत युवाओं न आने से डोज बर्बाद हो रहे थे।

सोमवार को 45 साल से अधिक आयु के लोगों को लगाया जाएगा पहला व दूसरा डोज

45 साल से अधिक आयु वाले लोगों को पहला व दूसरा कोरोना वैक्सीन का डोज सोमवार से लगाया जाएगा। इसके लिए शनिवार शाम तक इंदौर से कोवैक्सीन के 3600 व कोविशील्ड के 2100 डोज खंडवा आए। जबकि 18 से 44 साल के युवाओं के लिए 5040 कोविशील्ड के डोज भी आए।

कोविशील्ड का दूसरा डाेज 84 दिन बाद लगेगा

कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम के तहत कई लाभार्थियों को छह से आठ हफ्ते बाद कोविशील्ड के दूसरे डोज के लिए एसएमएस व अन्य माध्यमों से सूचित किया गया था। उन्हें 28 दिन या चार से छह सप्ताह का समय दिया गया था। उसे निरस्त करते हुए अब कोविशील्ड का दूसरा डोज 12 से 16 सप्ताह के बाद ही लगाया जाएगा। यानी 84 दिन के बाद।

खबरें और भी हैं...