लड़की को जीआरपी थाने को सौंपा:मुंबई से भागकर प्रेमी से मिलने यूपी जा रही नाबालिग को बिना टिकट पकड़ा

खंडवाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मुंबई से भागकर यूपी अपने प्रेमी से मिलने जा रही 15 साल की नाबालिग को सीटीआई भुसावल ने काशी एक्सप्रेस में बिना टिकट पकड़ा। लड़की को सीटीआई भुसावल राजेश्वर त्रिपाठी ने कार्रवाई के लिए खंडवा स्टेशन पर जीआरपी थाने को सौंपा। जहां से उसे चाइल्ड लाइन के संरक्षण में भेज दिया गया। गुरुवार को एलटीटी से गोरखपुर जा रही 5017 काशी एक्सप्रेस के एस-1 कोच में टिकट मांगने पर जब लड़की ने पुरुष का टिकट दिखाया तो मामला पकड़ में आया।

त्रिपाठी ने बताया मुंबई के भरुचा रोड स्थिति स्कूल में पढ़ने वाली 15 साल की नाबालिग छात्रा काशी एक्सप्रेस के एस-1 कोच में सवार थी। टिकट चेकिंग के दौरान बुरहानपुर से गाड़ी के रवाना होने पर जब नाबालिग से टिकट मांगा तो उसने 40 साल के पुरुष का टिकट दिखाया। जिस पर संदेह होने से मैंने पूछताछ की तो पहले उसने कुछ भी बताने से इनकार कर दिया। इसी बीच नाबालिग लड़की के मोबाइल से उसके प्रेमी ने भाई बनकर बात करते हुए टिकट बनाने का आग्रह किया।

युवक से जब मैंने माता-पिता से चर्चा कराने को कहा तो उसने फोन काट दिया। लड़की ने बताया कि वह यूपी के लार रोड में उतरने वाली थी जहां से आशिक नाम का युवक उसे लेने आने वाला था। लड़की बिहार की मूल निवासी है जो परिवार के साथ मुंबई में रहती है।

खबरें और भी हैं...