पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • After Adorning The Bullocks, Ran In The Fields, Worshiped And Enjoyed Puran Poli, The Farmers Took The Bullocks To The Temples And Got Darshan, Toured The Villages

पोला पर्व:बैलों का शृंगार कर मैदानों में दौड़ाया पूजन कर पूरणपोली का भोग लगाया, किसानों ने बैलों को मंदिरों में ले जाकर कराए दर्शन, गांवों में कराया भ्रमण

खडंवा13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

अमावस्या पर सोमवार को पोला पर्व ग्रामीण अंचलों में परंपरागत तरीके से मनाया गया। कोरोना संक्रमण के कारण पिछले 2 साल से इस त्योहार की चमक फीकी पड़ी थी। इस साल सभी में उत्साह नजर आया। बाजारों में भी खरीदी नजर आई। मिट्टी के बैल और रस्सी सहित बैलों की शृंगार सामग्री सहित अन्य सामान की जमकर बिक्री हुई।किसानों ने बैलों का शृंगार कर मैदान में दौड़ाया। गांव का भ्रमण कराया। सभी ने बैलों का पूजन कर उन्हें पूरणपोली का भोग लगाया।

बैलों का किया पूजन, मंदिरों के कराए दर्शन

पदम कुंड वार्ड से आह्वाड़ परिवार के सदस्यों ने बैलों का शृंगार का उन्हें शहर के प्रमुख मार्गों पर घुमाकर मंदिरों के दर्शन कराए।

शहर में सोमवार पशु पालकों ने पोला अमावस्या का त्योहार मनाया। इस अवसर पर बैलों का शृंगार कर पूजन किया। उन्हें पकवान खिलाए और क्षेत्र के प्रमुख मार्ग पर घुमाकर मंदिरों के दर्शन कराए। वहीं घरों में मिट्‌टी के बैलों का पूजन भी लोगों ने किया। पदमकुंड वार्ड, संजय नगर एवं कुंडलेश्वर वार्ड में पशु पालकों ने त्योहार मनाया। इसी प्रकार श्री गणेश गोशाला में गोवंश का पूजन किया। कार्यक्रम में जिसमें समिति के सदस्यों सहित अनेक गौभक्त सम्मिलित हुए।

ढोल-तासों के साथ बैलों को गांव में घुमाया, भोग लगाया

बोरगांव बुजुर्ग| गांव में निमाड़ का पोला पर्व उत्साह से मनाया गया। सुबह से ही किसानों ने बैलों को स्नान कर शृंगार किया। हनुमान मंदिर ले जाकर पूजापाठ की। साथ ही घर लाकर उन्हें खीर-पूरणपोली, ज्वार-गेहूं के साथ ही अन्य पकवान भी खिलाए। उन्हें गलियों में दौड़ाया भी गया।

बैलों को स्नान कराकर श्रृंगार किया, बच्चों में दिखा उत्साह

कुमठी सहित आसपास के गांवों में पोला पर्व उत्साह से मनाया गया। सुबह से ही किसानों ने बैलों को स्नान कराकर उनका श्रृंगार किया। दोपहर को हनुमान मंदिर ले जाकर पूजा की। घर वापसी पर महिलाओं ने पकवानों का भोग लगाया। रोहित महाजन, राजू गुर्जर, धर्मेंद्र गुर्जर, कमलेश गुर्जर आदि किसानों के घरों में बच्चों ने बैलों को सजाने में विशेष रुचि दिखाई। मंदिर ले जाने में उत्साहित नजर आए।

आरती उतारी, पकवान खिलाए

भगवानपुरा| गांव में पोला पर्व पर किसानों ने कृषि सहायक मित्र बैलों का शृंगार किया। हनुमान मंदिर के सामने ले जाकर दर्शन पूजन किया। घर लाकर आरती उतारी और पकवान खिलाए।

खबरें और भी हैं...