पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अफसर कृषि मंत्री को ही झूठा बता रहे:कृषि मंत्री बोले - नकली बीज मिले हैं, तीनों फर्म पर होगी एफआईआर

खंडवा18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रगति एग्रो सीड्स का गोदाम सील
  • दूसरों को बचा रहे अफसर

कृषि विभाग व बीज प्रमाणीकरण संस्था के अफसर अब कृषि मंत्री को ही झूठा बता रहे हैं। शुक्रवार को जिन बीज उत्पादक तीन संस्थाओं के गोदामों में संभागीय टीम को नकली बीज मिले थे, दूसरे दिन छापे में शामिल स्थानीय अधिकारी ही उनमें से दो को बचाने में लगे रहे। बोले- यहां टैग और बीज दोनों असली थे, जहां नकली थे, उसके खिलाफ एफआईआर करवा दी। जबकि कृषि मंत्री ने कहा- तीनों बीज उत्पादकों के यहां छापे में नकली बीज मिले थे, उनके खिलाफ भी एफआईआर होना थी। यदि अधिकारी बचाने में लगे हैं तो उनका भी निलंबन होगा। कृषि मंत्री कमल पटेल के निर्देश पर शुक्रवार देर शाम इंदौर-भोपाल की 8 सदस्यीय टीम ने खंडवा के ग्राम बावड़िया काजी स्थित बालाजी एग्रो, ग्राम पांझरिया स्थित प्रगति एग्रो सीड्स व उत्तम सीड्स ग्राम दोंदवाड़ा में एक साथ छापे मारे थे। इस दौरान तीनों उत्पादक कंपनियों के यहां बड़ी संख्या में एक ही नंबर के टैग व नकली बीज मिले थे।

कार्रवाई दूसरे दिन शनिवार तड़के 4 बजे तक चलती रही, लेकिन कृषि विभाग के सहायक कृषि विस्तार अधिकारी संतोष पाटीदार ने नकली टैग मिलने पर केवल प्रगति एग्रो सीड्स के संचालक संजय जैन के खिलाफ धारा 420, 3/7 आवश्यक वस्तु अधिनियम की धाराओं में पदमनगर थाने में केस दर्ज कराया। जबकि यही कार्रवाई बालाजी सीड्स व उत्तम सीड्स के संचालकों के खिलाफ भी की जानी थी। मामले में प्रकरण दर्ज होने के साथ ही प्रगति सीड्स का गोदाम भी सील किया गया।

ऑफिस खोलकर बैठे उपसंचालक, बीज उत्पादक मिलने पहुंचे
कार्रवाई के दूसरे ही दिन कृषि उपसंचालक आरएस गुप्ता कार्यालय पहुंच गए। यहां पर कार्रवाई से बचा बालाजी एग्रो का प्रोपाइटर महेंद्र सावनेर बीज प्रमाणीकरण संस्था के कुछ अफसर भी मिलने पहुंचे।

सनावद में पता चला खंडवा में है रेड
सूचना लीक ना हो और छापे की खबर बीज उत्पादकों तक ना पहुंचे इसलिए कृषि मंत्री पटेल ने शुक्रवार दोपहर ही संभागीय टीम तैयार की और रवाना कर दिया। टीम को देशगांव में पता चला कि खंडवा में रेड करनी है। इसीलिए टीम गोदामों पर तब पहुंची जब नकली टैग लगाकर नकली बीजों की पैकिंग की जा रही थी।

कल तक अफसरों तक पहुंच जाएंगे निलंबन के आदेश
तीनों बीज उत्पादक कंपनियों के यहां नकली बीज मिले हैं तो तीनों पर एफआईआर होगी। जो उन्हें बचाएगा उस पर भी कार्रवाई करेंगे। मामले में कृषि उपसंचालक व बीज प्रमाणीकरण अधिकारी की भी संलिप्तता पाई गई है, वे कार्रवाई में आनाकानी कर रहे थे। उनके निलंबन के आदेश सोमवार तक उनके पास पहुंच जाएंगे।
-कमल पटेल, कृषि राज्य मंत्री

टैग सही निकले, अन्य जांच बीज प्रमाणीकरण करेगा
कृषि विभाग की ओर से हमने बालाजी एग्रो व उत्तम सीड्स पर टैग की जांच की जो कि सही पाए गए, बीज की जांच बीज प्रमाणीकरण संस्था को करनी थी। प्रगति एग्रो सीड्स पर बीज व टैग दाेनों नकली मिले थे, इसलिए एफआईआर कराई।
-संतोष पाटीदार, सहायक कृषि विस्तार अधिकारी, कृषि विभाग

खबरें और भी हैं...