पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • Bardan Ends At Support Price Centers, If 10 Lakh Gunny Bags Are Not Purchased, They Will Be Closed From Today

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सरकारी खरीदी:समर्थन मूल्य केंद्रों पर बारदान खत्म, 10 लाख बारदान नहीं आए तो आज से बंद होगी खरीदी

खंडवा6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बारदान नहीं होने से उपार्जन केंद्रों के बाहर इस तरह गेहूं को खुले में रखा जा रहा है। - Dainik Bhaskar
बारदान नहीं होने से उपार्जन केंद्रों के बाहर इस तरह गेहूं को खुले में रखा जा रहा है।
  • जिले के 79 उपार्जन केंद्रों पर अब तक 30 लाख बारदानों में हो चुकी है 15 लाख क्विं. गेहूं की भर्ती
  • आंध्र प्रदेश से मंगवाए 5.50 लाख कटे-फटे बारदानों से गिर रही उपज, नुकसान होने पर समितियों ने लौटाए भास्कर संवाददाता

जिले के समर्थन मूल्य केंद्रों पर एक या दो दिन में गेहूं व चने की खरीदी निर्धारित अंतिम तारीख से पहले ही बंद हो जाएगी। खरीदी बंद होने व बारदान नहीं होने से लाखों क्विंटल गेहूं खुले में ही पड़ा रहकर बेमौसम बारिश में भीगकर खराब होने की आशंका है। जिससे शासन को करोड़ों रुपए का नुकसान हो सकता है। खरीदी बंद होने का सबसे बड़ा कारण 10 लाख बारदानों की कमी होना है।

जिले के 79 उपार्जन केंद्रों पर 27 मार्च से गेहूं की खरीदी समर्थन मूल्य पर की जा रही है। गेहूं खरीदी के लिए नागरिक अापूर्ति निगम ने शासन स्तर पर 4 हजार प्लास्टिक व 2 हजार 120 बारदान की गठानें बुलवाई थी। एक गठान में 50 बारदाने के हिसाब से 2 लाख बारदान प्लास्टिक व 1 लाख 6 हजार बारदाने जूट के बुलवाए थे। जो कि खरीदी शुरू होने के मात्र 10 दिनों में ही खत्म हो गए थे। आजिले को 10 लाख बारदान की जरूरत है जिले की 25 से अधिक समितियों में 5 लाख क्विंटल गेहूं खुले में पड़ा है। जहां पर इनकी भर्ती के लिए 50-50 किलो के 10 लाख बारदान की जरूरत है। लेकिन नागरिक आपूर्ति निगम, जिला विपणन संघ, सहकारिता विभाग के पास ऐसी कोई व्यवस्था फिलहाल नहीं है।

परेशानी आएगी पता था, समय रहते नहीं किया इंतजाम -अग्रवाल

नागरिक आपूर्ति निगम प्रभारी प्रबंधक शरद अग्रवाल ने पूर्व में ही शासन स्तर पर जूट के बारदानों की सप्लाई नहीं होने व भविष्य में परेशानी की बात कही थी। लेकिन उनके द्वारा समय रहते कोई इंतजाम नहीं किए गए। इसलिए जिले में यह स्थिति निर्मित हो रही है।

जिम्मेदार बोले

बारदान नहीं मिले तो बंद कर देंगे खरीदी

जिले के 25 से अधिक खरीदी केंद्रों पर 5 लाख क्विंटल उपज भरने के लिए बारदानों की कमी आ रही है। सोमवार तक बारदान नहीं आते हैं तो खरीदी बंद कर देंगे। एके हरसौला, महाप्रबंधक, जिला सहकारी केंद्रीय बैंक

गुजरात और धार से मंगवाए हैं बारदान

नागरिक आपूर्ति निगम से 6.50 हजार गठानें मिली थी जो खत्म हो गई। इसके बाद भेजी गई 11 हजार गठानें फटी निकल रही है। ऐसे में 600 गठान गुजरात व 500 गठानें धार से बुलवाई है।
रोहित श्रीवास्तव, जिला विपणन अधिकारी

इधर, बारिश से किसान परेशान

खरीदी केंद्र प्रांगण को तिरपाल से ढंका, गेहूं को नहीं हुआ नुकसान

मूंदी, नगर में रविवार दोपहर अचानक मौसम में बदलाव आया। गरज-चमक के साथ हुई बारिश से सड़कें तरबतर हो गई। मौसम देखकर किसानों ने ताबड़तोड़ खरीदी केंद्र पहुंचकर गेहूं ढेरों को तिरपाल से ढंककर सुरक्षित किया।

गुयड़ा समिति के पास फटे बारदान होने के कारण दो दिन से खरीदी बंद है। हालांकि उपार्जन केंद्र प्रांगण में पहले से तिरपाल से ढंके होने 20 गेहूं के ढेरों को कोई नुकसान नहीं हुआ। किसान सुमेर सिंह पटेल ने बताया बारिश देखकर किसान चिंतित हो गए थे, कुछ देर बाद बारिश बंद हो गई।

आंधी से दो घंटे बंद रही बिजली सप्लाय

बोरगांव बुजुर्ग, गांव में दो दिनों से मौसम में बदलाव देखने को मिल रहा है। शनिवार शाम बादल छाने लगे और धूलभरी आंधी चली, देररात तक सिलसिला जारी रहा। हवा-आंधी चलने से करीब दो घंटे क्षेत्र की बिजली बंद रही। इससे ग्रामीणों को गर्मी और उमस से परेशान होना पड़ा। रविवार सुबह धूप खिलने से किसानों ने राहत की सांस ली। लेकिन दोपहर 3 बजे दोबारा बादल छा गए।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज दिन भर व्यस्तता बनी रहेगी। पिछले कुछ समय से आप जिस कार्य को लेकर प्रयासरत थे, उससे संबंधित लाभ प्राप्त होगा। फाइनेंस से संबंधित लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे। न...

    और पढ़ें