पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • Before Namaz, Maulana Sarfuddin Ahmed Qadri Said On Idgah That Those Who Left Corona Should Be Helped By Reaching Door To Door

ईद उल अज़हा:नमाज से पहले मौलाना सरफुद्दीन अहमद कादरी ने ईदगाह पर कहा कि कोरोना से जो चले गए उनके घर-घर पहुंचकर की जाए मदद

खंडवा8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ईदगाह मैदान पर मौलाना सरफुद्दीन अहमद कादरी ने नमाज अदा कराई। - Dainik Bhaskar
ईदगाह मैदान पर मौलाना सरफुद्दीन अहमद कादरी ने नमाज अदा कराई।

दुनिया में कोरोना महामारी बहुत जानलेवा है। इसलिए उसे नकारिया मत कि बीमारी नहीं आई। वला तो आई। हर एक आदमी के पास से होकर गुजर गई। अल्लाह ने हमको बचा लिया। जो लोग चले गए इस बीमारी में उनके घर-घर पहुंचकर मदद की जाए। ईद उल अज़हा की नमाज से पहले ईदगाह पर यह बात मौलाना सरफुद्दीन अहमद कादरी ने कही।

उन्होंने सुबह 7.30 बजे ईदगाह पर नायब शहर काजी सैय्यद निसार अली की मौजूदगी में मुख्य नमाज अदा कराई। इसमें 50 लोगों की अनुमति होने के कारण ईदगाह पर सीमित संख्या में लोगों ने नमाज पढ़ी। इस दौरान दुआ कि गई कि कोरोना महामारी और आने वाली जो भी बीमारियां हैं उससे पूरी दुनिया, हमारे मुल्क, शहर और प्रदेश को दूर और दफा फरमाए। सबकी जान-माल, इज्जत,आबरू की हिफाजत हो।

हमें बचाने के लिए है प्रशासन की सख्ती
इस अवसर पर मौलाना सरफुद्दीन कादरी ने कहा कि महामारी की वजह से शासन-प्रशासन की जो भी सख्तियां हैं, हमारे फायदे के लिए हैं। हमें बचाने के लिए हैं। खुशहाली, भाईचारा, शांति और हमारा देश बढ़ता रहे यही दुआ है।

42 मस्जिदों में पढ़ी गई नमाज
ईदगाह सहित शहर की 42 मस्जिदों में बुधवार सुबह 6.30 से 7.30 तक नमाज पढ़ी। मुख्य नमाज ईदगाह मैदान पर हुई। शहर के अलग-अलग क्षेत्र की मस्जिदों में भी लोगों ने नमाज अदा की। इसके बाद एक-दूसरे के गले मिल मुबारकबाद दी।

मास्क लगाए,सोशल डिस्टेंसिंग का करें पालन

  • कोरोना संक्रमण अभी पूरी तरह खत्म नहीं हुआ है लेकिन कुछ लोगों ने मास्क लगाना छोड़ दिया है। इसलिए ईद के मौके पर सभी लोगों से अपील है कि मास्क लगाए और नियमों का पालन करें ताकि संभावित तीसरी लहर से सभी शहरवासी सुरक्षित रहें। -सैय्यद निसार अली, नायब शहर काजी
खबरें और भी हैं...