निगम व पंचायत चुनाव:भाजपा प्रदेशाध्यक्ष नप व पंचायतों के बूथ अध्यक्ष व वरिष्ठ नेताओं से करेंगे चर्चा

खंडवा9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 1 बूथ 20 यूथ की तैयारी कर चुनाव लड़ेगी भाजपा

स्थानीय निकाय चुनावों को लेकर भाजपा ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। विधानसभा चुनाव के तर्ज पर एक बूथ 20 यूथ के मूलमंत्र के साथ भाजपा निकाय चुनाव लड़ेगी। यहां पर एक बूथ अध्यक्ष के साथ 20 कार्यकर्ता रहेंगे। भाजपा का मानना है कि पार्टी को वोट दिलाने के लिए बूथ पर बनाई जाने वाली समिति में हर वर्ग के एक-एक व्यक्ति को शामिल किया जाएगा। समिति में शामिल लोग अपने-अपने वर्ग के व्यक्तियों एवं परिवार से संपर्क कर भाजपा को वोट दिलाने का काम करेंगे। इससे पहले पार्टी एक मतदान 10 जवान की तर्ज पर लोकसभा, विधानसभा और निकाय चुनावों को लड़ती आ रही थी।

इधर, आगामी दिनों में खंडवा में भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा शहर सहित जिले के नगर परिषद व पंचायतों के बूथ अध्यक्ष व वरिष्ठ नेताओं से चर्चा करेंगे। बैठक में भाजपा नेताओं, कार्यकर्ताओं एवं व्यापारियों के साथ प्रदेशाध्यक्ष पिछले 15 सालों के कामों की समीक्षा भी करेंगे। प्रदेशाध्यक्ष शहर एवं जिले की नगर परिषदों में आने वाले पांच सालों के कार्यों की व्यापारियों पूछकर रूपरेखा भी बनाएंगे।

शनिवार को भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा ने संभाग के सभी जिलाध्यक्षों के साथ इंदौर में बैठक की। जिला कार्यकारिणी को लेकर शर्मा ने जिलाध्यक्षों से चर्चा की। भाजपा जिलाध्यक्ष सेवादास पटेल ने बताया बूथ अध्यक्षों के साथ भाजपा प्रदेशाध्यक्ष की शहर में एक बैठक इसी महीने होगी। इसमें अध्यक्षों से प्रदेशाध्यक्ष शर्मा खुद मतदाताओं की संख्या को लेकर चर्चा करेंगे। बैठक में अध्यक्षों के साथ वरिष्ठ नेताओं एवं व्यापारियों को बुलाया जाएगा। इसमें शहर के विकास को लेकर सभी से सुझाव लिए जाएंगे। मार्च में प्रदेशाध्यक्ष की बैठक होगी। इसकी तारीख भोपाल से तय होगी।

निकाय चुनाव : 15 मार्च तक हो सकती है घोषणा
इधर, शनिवार को राज्य निर्वाचन आयोग ने नगरीय निकायों के चुनाव कराने की तैयारियों की समीक्षा की। मुख्य निर्वाचन आयुक्त बीपी सिंह ने कलेक्टरों से इलेक्शन मोड में रहने को कहा है। जानकारी के मुताबिक राज्य निर्वाचन आयोग की चुनाव तैयारियों से स्पष्ट है कि अगले सप्ताह यानी 15 मार्च तक नगर सरकार के चुनावों की तारीख की घोषणा हो सकती है। प्रदेश में 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं 30 अप्रैल से 18 मई तक होना है। आयोग की तैयारी इसके पहले चुनाव कराने की है। क्योंकि नगरीय निकायों के बाद पंचायतों के चुनाव भी कराए जाने हैं, जिनके बोर्ड परीक्षाओं के बाद कराने की संभावना है।

खबरें और भी हैं...