लोकल फॉर वोकल की जागरुकता अभियान:ऑनलाइन के बजाय स्थानीय दुकानदारों से सामान खरीदे

खंडवाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विधायक, महापौर सहित अन्य जनप्रतिनिधि सामान खरीदते हुए। - Dainik Bhaskar
विधायक, महापौर सहित अन्य जनप्रतिनिधि सामान खरीदते हुए।

लोकल फॉर वोकल की जागरुकता अभियान के लिए जनप्रतिनिधियों व सामाजिक संस्थाओं के पदाधिकारियों के साथ विधायक देवेंद्र वर्मा की पहल पर जागरूकता कार्यक्रम व रैली का आयोजन किया। इस अवसर पर विधायक वर्मा ने कहा तेजी से बढ़ रहे ऑनलाइन बाजार से करोड़ों की रोजी-रोटी को खतरा उत्पन्न हो गया है। देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए मोदी जी ने लोकल फॉर वोकल का नारा दिया है।

हम स्थानीय अर्थव्यवस्था को सुधार करने के लिए स्थानीय दुकानदारों, छोटे व्यापारी जो त्योहारों पर हम से उम्मीद लगाकर रखते हैं। उनका व्यवसाय प्रभावित होता है। यदि हम छोटे व्यापारियों से खरीदी करें तो उन्हें लाभ होगा। इसलिए लोगों को जागरूक करने के लिए हम अपने हाथों में कपड़ों की थैलियां लेकर छोटे व्यापारियों से जरूरत का सामान खरीद कर लोगों को जागरूक कर रहे हैं।

इस अवसर पर महापौर अमृता यादव ने कहा हम फुटपाथ पर बैठे व्यापारियों से दीया, बाती, प्रतिमा व जरूरत का सामान लेंगे तो उनको आर्थिक लाभ होगा। वे भी अपना त्यौहार हर्षोल्लास के साथ मना सकेंगे। निगम अध्यक्ष अनिल विश्वकर्मा, चेंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष गुरमीत सिंह उबेजा, राजेश डोंगरे, ओम अग्रवाल, कमल नागपाल ने रैली को स्थानीय व्यापार हितेषी बताया। लोकल फॉर वोकल जागरूकता रैली नगर पालिका निगम से प्रारंभ होकर घंटाघर एवं आसपास के फुटकर व्यापारियों से जरूरत का सामान खरीदते हुए वापस नगर पालिका निगम पर समाप्त हुई।

कार्यक्रम में सेवादास पटेल, राजेश तिवारी ,राजेश डोंगरे, हरीश कोटवाले, गुरमीत सिंह उबेजा, दिनेश पालीवाल, सुनील जैन, नारायण बाहेती, सुधांशु जैन, आशीष राजपूत, सुनील बंसल, ओमप्रकाश अग्रवाल, मोहन दीवान, राजेश यादव, सोमनाथ काले, जीवन डिंडोरे, प्रवीण पांडे, मंगलेश तोमर, श्रृंगी उपाध्याय, भरत पटेल, विक्की बावरे, दीना पवार, अनीष अरझरे, अनिल बाहेती, निशा अग्रवाल, हर्षा ठाकुर सहित अन्य लाेग माैजूद थे। कार्यक्रम का संचालन प्रवीण पांडे ने किया। आभार रितेश कपूर ने माना।

खबरें और भी हैं...