पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मारपीट:मवेशी चराने की बात पर दो समुदायों में हुई मारपीट और पथराव, 8 लोग घायल

खंडवाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोतवाली क्षेत्र के दीपला गांव का मामला, गांव में बड़ी संख्या में पहुंची पुलिस, स्थिति नियंत्रण में

शहर से 15 किमी दूर कोतवाली क्षेत्र के दीपला गांव में सोमवार शाम मवेशी चराने की बात पर दो समुदायों में मारपीट हो गई। इस दौरान जमकर पथराव हुआ। भगदड़ व अफरातफरी के बीच गांव के कुछ लोगों ने डायल 100 को सूचना दी। पुलिस के सेट पर पाइंट चलते ही कोतवाली पुलिस भी मौके पर पहुंची। पुलिस ने उपद्रवियाें को खदेड़कर तितर-बितर किया। दोनों पक्ष के आठ लोग घायल हुए है। जिन्हें पुलिस ने एंबुलेंस से जिला अस्पताल रवाना किया। मामले में देर रात दोनों पक्षों की शिकायत पर कोतवाली पुलिस ने प्रकरण दर्ज किया। 
घटना सोमवार शाम छह बजे की है। दीपला गांव के जंगल में सरफराज पिता अब्दुल गनी मंसूरी व जयपाल पिता दामोदर के बीच बकरी चराने की बात पर विवाद हो गया। मामला मारपीट तक पहुंच गया। दामोदर के साथ मारपीट को लेकर गांव का राजेश फूलमाली व साथी भड़क गए। इस दौरान दोनों पक्षों के लोग आमने-सामने हो गए। करीब आधा घंटे तक गांव में भगदड़ व एक-दूसरे पर पथराव होता रहा। इस दौरान दोनों पक्षों के आठ लोग घायल हुए। उपद्रव के दौरान कुछ लोगाें ने एक युवक की हत्या की अफवाह फैला दी। इसके बाद पुलिस बल के साथ एसपी डॉ. शिवदयाल सिंह, एएसपी सीमा अलावा, सीएसपी ललित गठरे भी मौके पर पहुंचे। इस दौरान कोतवाली टीआई बीएल मंडलोई व टीम ने उपद्रवियों पर काबू पा लिया था। 
एक पक्ष बोला : मेरे साथ मारपीट की, लोगों ने बचाया  
जिला अस्पताल में घायल जयपाल दामोदर ने कहा मुझे गनी और उसके साथियों ने जाति सूचक शब्द कहकर गालियां दी। मैं जंगल में बकरी चरा रहा था। मेरे साथ मारपीट होते देख गांव के युवक मेरी मदद के लिए दौड़े। उनके साथ भी गनी और साथियों ने मारपीट कर धारदार हथियारों से हमला कर पथराव किया। 
दूसरा पक्ष बोला-: मेरे घर पथराव किया, मारपीट भी 
घायल अब्दुल करीम मंसूरी ने जयपाल और राजेश फूलमाली पर मारपीट का आरोप लगाया। करीम ने कहा मेरा पोता जंगल में बकरी चरा रहा था। इस दौरान उसके साथ जयपाल ने मारपीट की। गांव में आने के बाद मेरे घर पर राजेश फूलमाली और उसके साथियाें ने पथराव कर दिया, जबकि उसका कोई विवाद नहीं था। 
कुछ वीडियो फुटेज मिले, दोनों पक्षों पर केस दर्ज किया है 
दोनों पक्षों में मारपीट हो गई थी। कुछ लोगों ने अफवाह फैला दी। आठ लोग घायल हुए है, जिनका इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। मारपीट व भगदड़ के कुछ वीडियो फुटेज मिले हैं। उपद्रवियों के खिलाफ लॉकडाउन का उल्लंघन, मारपीट, बलवा, जान से मारने की धमकी, आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज किया है।  
ललित गठरे, नगर पुलिस अधीक्षक

खबरें और भी हैं...