पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

तेजी से किया जा रहा काम:35 लाख से बन रहे श्वान बधियाकरण केंद्र का मुख्यमंत्री करेंगे लोकार्पण

खंडवा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • ऑपरेशन के बाद कुत्तों को रखने के लिए अस्पताल में लगाए जा रहे पिंजरे

मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के आगमन को लेकर निगम में तैयारियां तेजी से चल रही हैं। निगम चुनाव से पहले जिले में सीएम का दौरा प्रस्तावित होने से निगम विभिन्न कामों को तेजी से करवा रहा है। संभवत: चुनाव से पहले वे यहां शहर विकास से संबंधित कई घोषणाएं करेंगे। इनमें नर्मदा योजना की बार-बार फूट रही पाइप लाइन की समस्या के स्थायी निराकरण और वर्तमान व्यवस्था में सुधार के लिए घोषणा कर सकते हैं। शहर में कई कामों का एक साथ लोकार्पण और भूमिपूजन करेंगे। इनमें 35 लाख रुपए लागत से बने श्वान बधियाकरण केंद्र भी शामिल हैं। 4 हजार 500 वर्गफीट जमीन पर निर्माण किया जा रहा है। इसका काम अंतिम चरण में है। संभवत: इसीलिए इसके शेष बचे काम तेजी से किए जा रहे हैं। एक सप्ताह में फ्लोरिंग और अन्य कार्य पूरे करने के प्रयास निगम अफसर कर रहे हैं।
इसलिए किया जा रहा अस्पताल का निर्माण
शहर में आवारा कुत्तों की संख्या कम करने के उद्देश्य से निगम द्वारा इस अस्पताल का निर्माण किया जा रहा है। इसका संचालन निजी संस्था से कराया जाएगा। संबंधित संस्था पशु चिकित्सक से अनुबंध कर कुत्तों का बधियाकरण का कार्य करेंगी।
कराया जा रहा है काम
^कुत्तों के बधियाकरण के लिए अस्पताल का काम करवा रहे हैं। जल्दी ही यह काम पूरा हो जाएगा। इससे आवारा कुत्तों की संख्या शहर में कम होगी।
-हिमांशु भट्‌ट, आयुक्त नगर निगम

कुत्तों को रखने के लिए लगाए जा रहे पिंजरे
बधियाकरण के बाद कुत्तों को पांच से सात दिन तक इसी अस्पताल में रखा जाएगा। इसके लिए पिंजरे लगाए जा रहे हैं। अब तक सात पिंजरे इस केंद्र में लगाए जा चुके हैं। शहर के विभिन्न क्षेत्रों से लाए गए कुत्तों को इसमें रखा जाएगा। स्वस्थ्य होने के बाद वापस कुत्तों को संबंधित क्षेत्रों में छोड़ दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने व्यक्तिगत रिश्तों को मजबूत करने को ज्यादा महत्व देंगे। साथ ही, अपने व्यक्तित्व और व्यवहार में कुछ परिवर्तन लाने के लिए समाजसेवी संस्थाओं से जुड़ना और सेवा कार्य करना बहुत ही उचित निर्ण...

    और पढ़ें