पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना:सड़कें गुणवत्ताहीन होने की शिकायतें मिल रही, महाप्रबंधक ध्यान दें -उईके

खंडवा14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • गांवों की सड़कों का निर्माण नहीं होने से लोगों की हो रही फजीहत
  • जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति ‘दिशा’ की बैठक हुई

प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत घटिया निर्माण व कई ग्रामों में सड़कों का निर्माण नहीं हाेने की शिकायतें मिल रही हैं। महा प्रबंधक ऐसे ग्रामों को चिन्हित करें जो पक्के सड़क मार्ग से अभी तक वंचित हैं, उन ग्रामों तक पक्की सड़कें बनाकर शहर से जोड़ें। यह निर्देश बैतूल सांसद दुर्गादास उईके ने बुधवार को कलेक्टोरेट में हुई जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति दिशा की बैठक में प्रधानमंत्री सड़क योजना के महाप्रबंधक को दिए। उन्होंने निर्देश दिए कि भीषण गर्मी में ग्रामीण व शहरी क्षेत्र में पेयजल समस्या उत्पन्न न हो इसके लिए लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग व नगरीय निकाय व्यवस्थित कार्य योजना बनाकर कार्य करें।

उन्होंने प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना, ग्रामीण आजीविका परियोजना, जल जीवन मिशन, प्रधानमंत्री आवास योजना व मनरेगा सहित केन्द्र सरकार द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने मौजूद सभी अधिकारियों से कहा कि जनप्रतिनिधियों से प्राप्त प्रस्तावों पर तत्काल कार्यवाही की जाए। कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी को निर्देश दिए कि बंद हेंडपंपों व बंद पेयजल योजनाओं को चालू करवाएं ताकि गर्मी के मौसम में अधिक परेशानी न हो। सांसद ने मनरेगा के तहत जल स्त्रोतों के आसपास वृक्षारोपण कराने के लिए कहा।
जल जीवन मिशन के तहत बंद है 1606 हैंडपंप
विधायक देवेंद्र वर्मा ने बैठक में ग्रामीण क्षेत्र में जल जीवन मिशन के तहत बनाई जा रही पेयजल टंकियों के गुणवत्ताहीन होने की शिकायत की। जिले में 5377 हेंडपम्प चालू है तथा 1606 हेंडपंप विभिन्न कारणों से खराब है। विधायक ने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत निर्मित सड़कों की गुणवत्ता के संबंध में भी शिकायत की तथा कहा कि गारंटी पीरियड में भी ठेकेदार सड़कों का मेंटेनेस व मरम्मत नहीं कर रहे हैं, ऐसे ठेकेदारों पर उन्होंने कार्यवाही की मांग की।

जिला पंचायत सीईओ नंदा भलावे ने बैठक में बताया कि मनरेगा के तहत एक वर्ष में 202.49 करोड़ रुपए के कार्य कराए गए, जिसमें 129 करोड़ रुपए मजदूरी पर तथा 73.32 करोड़ रुपए निर्माण सामग्री पर खर्च हुए। 16104 कार्य मनरेगा के तहत पूर्ण हुए हैं, जिनमें 9707 कार्य हितग्राही मूलक तथा 6397 सामुदायिक कार्य है। निगम आयुक्त हिमांशु भट्ट ने बताया प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 1 हजार से अधिक हितग्राहियों को तीसरी किश्त भी जारी की जा चुकी है। बैठक में विधायक नारायण पटेल, जिला पंचायत अध्यक्ष हसीनाबाई भाटे, कलेक्टर अनय द्विवेदी, पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह, जिला पंचायत सीईओ नंदा भलावे सहित समिति के विभिन्न सदस्य व विभागीय अधिकारी मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने के लिए प्रयासरत रहेंगे। घर में किसी नवीन वस्तु की खरीदारी भी संभव है। किसी संबंधी की परेशानी में उसकी सहायता करना आपको खुशी प्रदान करेगा। नेगेटिव- नक...

    और पढ़ें