पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जीवन रेखा मां नर्मदा:खंडवा, खरगोन और बड़वानी जिले की एक लाख एकड़ जमीन पर लहलहा रही फसलें

खंडवा10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • चांदेल में नहर से 15 मेगावाट बिजली बनाकर 243 किमी दूर बड़वानी तक सिंचाई के लिए दे रहे पानी
  • 1 लाख 23 हजार हेक्टेयर जमीन की सिंचाई प्रस्तावित, शेष क्षेत्र में भी सिंचाई होगी

प्रदेश की जीवन रेखा मां नर्मदा ने निमाड़ में खंडवा के साथ ही खरगोन और बड़वानी जिले में भी लोगों को खुशहाल बना दिया। पुनासा से 10 किलोमीटर दूर नर्मदा नगर में बने इंदिरा सागर बांध की नहर से इन तीनों जिलों में फसलें लहलहा रही हैं। चांदेल में मुख्य नहर 15 मेगावाट बिजली बनाकर 24 घंटे पानी छोड़ा जा रहा है। यहां से प्रति सेकंड 100 क्यूमैक्स पानी छोड़कर 243 किलोमीटर दूर बड़वानी जिले तक इससे सिंचाई की जा रही है। इस मुख्य नहर से 1205 किलोमीटर लंबी डिस्ट्रीब्यूशन नहर से खेतों तक पानी पहुंचाया जा रहा है। कुल 1 लाख 23 हजार हेक्टेयर जमीन की सिंचाई प्रस्तावित है। फिलहाल 596 गांवों की 1 लाख एकड़ जमीन पर सिंचाई की जा रही है। आने वाले समय में शेष बचे क्षेत्र में भी सिंचाई होने लगेगी।

यहां बाकी है नहर का काम
खरगोन जिले में 5 हजार हेक्टेयर और बड़वानी जिले में कुछ स्थानों पर करीब साढ़े तीन हजार हेक्टेयर क्षेत्र में नहर का काम अब तक नहीं हो पाया। इन क्षेत्रों में नहरों को आपस में जोड़ना है। काम होने पर बाकी बचे 23 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में भी नहर से सिंचाई होने लगेगी।

1 लाख हे. क्षेत्र हो रहा सिंचित
^इंदिरा सागर परियोजना की नहरों से 1.23 लाख हेक्टेयर क्षेत्र सिंचित होना है। फिलहाल एक लाख एकड़ क्षेत्र सिंचित हो रहा है। खरगोन व बड़वानी में कुछ हिस्से में थोड़ा काम बाकी है, यह होने से पूरे क्षेत्र में सिंचाई होगी।
एमएस अजनारे, मुख्य अभियंता, एनवीडीए

3 लाख हेक्टेयर हो गया सिंचित रकबा : इंदिरा सागर व ओंकारेश्वर बांध बनने के बाद 16 साल में सिंचित रकबा तीन गुना बढ़ गया। 2003-2004 में जिले में 1 लाख 5 हजार 253 हेक्टेयर क्षेत्र सिंचित था। बैकवाटर फैलने और इंदिरा सागर बांध की नहर से सिंचाई होने के कारण 2019-20 में सिंचित रकबा 3 लाख 5 हजार 6 हेक्टेयर है।

इधर मई तक पूरी होगी 35 हजार हे. सिंचाई की प्रस्तावित छैगांव उद्वहन योजना
छैगांवमाखन उद्वहन सिंचाई योजना का काम तेजी से चल रहा है। इस योजना में कुल 35 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई की जाएगी। इससे 73 गांवों के किसानों को लाभ मिलेगा। इंदिरा सागर बांध की मुख्य नहर के 27 किमी से डोंगरगांव के पास से पानी भोजखेड़ी सहित अन्य क्षेत्रों तक पहुंचाया जाएगा। इस योजना का 95% काम हो गया है। मई 2021 तक काम पूरा करने का लक्ष्य है। इसकी मुख्य राइजिंग लाइन 19 किमी है। इससे 2600 किमी लंबी लाइन से सिंचाई की जाएगी। इसमें से 2300 किमी का काम हो गया है। योजना में पहले पंप हाउस डोंगरगांव से रोहनाई तक एक पंप से ट्रायल हो चुका है। सिर्रा के पास कुछ काम बचा है।

^उद्वहन सिंचाई योजना के लिए इंदिरा सागर की मुख्य नहर का 27 किमी से पानी लिया है। 95% काम हो गया। मई तक काम पूरा होने का लक्ष्य है। आरएस गुप्ता, कार्यपालन यंत्री, एनवीडीए

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप प्रत्येक कार्य को उचित तथा सुचारु रूप से करने में सक्षम रहेंगे। सिर्फ कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा अवश्य बना लें। आपके इन गुणों की वजह से आज आपको कोई विशेष उपलब्धि भी हासिल होगी।...

    और पढ़ें