पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

विकास:डीआरएम बोले- सालभर में पूरा होगा खंडवा-ओंकारेश्वर ब्रॉडगेज ट्रैक कन्वर्जन

खंडवाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सेंट्रल रेलवे भुसावल के डीआरएम गुप्ता ने खंडवा स्टेशन पर यार्ड रिमोल्डिंग को लेकर अधिकारियों से डिजाइन पर की चर्चा

सेंट्रल रेलवे भुसावल मंडल के डीआरएम विवेक कुमार गुप्ता ने मंगलवार को खंडवा स्टेशन पर निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया। रेलवे स्टेशन यार्ड रिमोल्डिंग को चरणबद्ध तरीके से किया जाएगा। जिसके तहत फेज-1 में खंडवा से ओंकारेश्वर (खंडवा से अहमदपुर खैगांव 7 किमी का काम ही शेष है, सनावद से मथेला लूप लाइन का निर्माण हो चुका है) लाइन को जोड़ने काम किया जाएगा। जिससे एक बार फिर खंडवा से एक साल के भीतर सनावद तक ट्रेन चलने का संभावना जगी है। डीआरएम गुप्ता ने स्टेशन व मालगोदाम परिसर का निरीक्षण करने के बाद स्टेशन मैनेजर के कक्ष में अधिकारियों को चर्चा की। सेंट्रल रेलवे एवं साउथ सेंट्रल रेलवे के डिप्टी चीफ इंजीनियर वर्क्स के साथ यार्ड रिमोल्डिंग के डिजाइन को देखा। उन्होंने दोनों ही मंडलों के अधिकारियों से कहा जब इसे करना है तो शुरू करके खत्म करो। हालांकि अधिकारियों के साथ बैठक के बाद भी डीआरएम यार्ड रिमोल्डिंग के काम की कोई तय तारीख नहीं दे पाए। सवाल के जवाब में उन्होंने कहा यह बहुत बड़ा और जटिल काम है। खंडवा से ओंकारेश्वर और अकोला पुराने ट्रैक को जोड़ने काम चरणबद्ध तरीके से किया जाएगा। पहले चरण में खंडवा-ओंकारेश्वर लाइन का काम किया जाएगा। बैठक में भुसावल से आए रेलवे के अधिकारी आरके शर्मा, युवराज पाटिल, स्टेशन मैनेजर जीएल मीणा, कामर्शियल अधिकारी एनके शर्मा, सीनियर सेक्शन इंजीनियर प्रशांत भुसारी सहित अन्य अधिकारी शामिल रहे।

सुविधा : मालगोदाम में 60 मीटर का बनेगा नया गुड्स शेड, सड़क का हो रहा निर्माण
इससे पहले डीआरएम गुप्ता ने मालगोदाम के विकास कार्यों का निरीक्षण किया। यहां 11 मीटर चौड़ी व लगभग 500 मीटर लंबाई की सड़क बनाने काम चल रहा है। डीआरएम ने मालगाड़ियों के रैक खाली करने के लिए शेड के विस्तार के निर्देश रेलवे अधिकारियों को दिए। उन्होंने 60 मीटर तक नया शेड बनाने की बात कही। इधर, प्लेटफार्म नंबर-6 पर अधूरे पड़े कामों पर डीआरएम ने सवाल किया कि काम किसके आदेश से बंद है। इस पर अधिकारी जवाब नहीं दे पाए। डीआरएम ने कहा छोटे-छोटे काम तो हो ही सकते हैं। प्लेटफार्म नंबर-1 पर सड़ चुके स्लीपर को बदलने के भी डीआरएम ने निर्देश दिए।

घाटा : रेलवे कैंटीन की लाइसेंस फीस कम, डीआरएम बोले- यात्री सुविधा पर दे रहे ध्यान
प्लेटफार्म को व्यावसायिक गतिविधियों के लिए देकर आय बढ़ाने की सोच रहा है। जल्द ही रेलवे लैंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (आरएलडीए) खंडवा स्टेशन पर व्यावसायिक उपयोग की जगहों पर काम शुरू करेगी। इधर, आईआरसीटीसी ने खंडवा स्टेशन रिफ्रेशमेंट रूम (रेलवे कैंटीन) के लिए टेंडर जारी किया है। लाइसेंस फीस 5 लाख 50 हजार 572 रुपए प्रति वर्ष रखी है, जबकि 2015 में यह ठेका 25 लाख में गया था। रेलवे ने पुराने ठेकेदार से लेकर नए सिरे से रिफ्रेशमेंट रूम का टेंडर किया तो तय हुआ था कि हर साल ठेके की लागत में 10 प्रतिशत की बढ़ोतरी होगी। डीआरएम गुप्ता ने कैंटीन की ठेका लागत कम किए जाने के सवाल पर कहा लागत हमने कम नहीं की है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

    और पढ़ें