पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना:15 दिन में एक स्थान खिसककर प्रदेश में 11वें और निमाड़ में तीसरे पर पहुंचा खंडवा

खंडवाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रदेश में खरगोन जिला सातवें, बड़वानी जिला आठवें और बुरहानपुर जिला 15वें स्थान पर पहुंचा

काेराेना के बढ़ते मामलों में खंडवा जिले की स्थिति प्रदेश के अन्य जिलाें से बेहतर हो रही है। ऐसे जिले जहां काेराेना के केस बढ़ रहे हैं उन 15 शहराें में खंडवा 11वें स्थान पर अा गया है। यह सुधार 15 दिन के भीतर हुआ है। 25 जुलाई को खंडवा जिला प्रदेश में 10वें स्थान पर था। अब 11वें पर है। जबकि प्रदेश टॉप-15 की लिस्ट में खरगोन 7वें, बड़वानी 8वें और बुरहानपुर 15वें पायदान पर है। निमाड़ में मरीजों के मामले में खरगोन पहले, बड़वानी दूसरे, खंडवा तीसरे व बुरहानपुर का स्थान चौथा है।
मई में शून्य संक्रमित वाला बड़वानी जिला 16 दिन में 16वें से 8वें पायदान पर पहुंचा
लॉकडाउन के दौरान 13 मई को कोरोना मुक्त होकर ग्रीन जोन की ओर बढ़ रहा शामिल बड़वानी जिला 48 घंटे बाद ही संक्रमित हो गया था। पिछले 16 दिनों (25 जुलाई से 9 अगस्त) के प्रादेशिक आंकड़ों पर नजर डालें तो बड़वानी 16वें से खिसककर 8वें स्थान पर आ गया है। इसके साथ ही निमाड़ में चौथे की बजाय दूसरे स्थान पर पहुंच गया। वहीं खरगोन जिला पिछले 16 दिनों से लगातार काेराेना के बढ़ते मामलों में सातवें स्थान पर बरकरार है।
जिले में कोरोना के 75 मरीज एक्टिव, अब तक 20 की मौत
जिले में अब तक 703 में से केवल 75 मरीज कोरोना के एक्टिव हैं। अब तक 608 मरीजों की स्वस्थ होने पर छुट्टी हो चुकी है जो कुल संक्रमित का 86.48 प्रतिशत है। जबकि कुल मरीजों के आंकड़ों पर नजर डालें तो 2.84 फीसदी अर्थात 20 मरीज दम तोड़ चुके हैं।

24 घंटे के भीतर हाइरिस्क कांटेक्ट में आने वालों की हो रही ट्रेसिंग
अनलॉक-1 की शुरुआत के बाद जुलाई में कोरोना का पीक आने की आशंका थी, लेकिन फिलहाल हालात ठीक है। इसका प्रमुख कारण कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलते ही 24 घंटे के भीतर उसके हाइरिस्क कांटेक्ट में आने वाले लोगों की खोज करना है। ऐसे लोगों की जांच में यदि कोई संदिग्ध मरीज मिल रहा है तो उसे बिना देर किए जिला अस्पताल के कोरोना संदिग्ध वार्ड में भर्ती किया जा रहा है। यहां इलाज के साथ उनका सैंपल जांच के लिए लैब भेजा जा रहा है। इसकी रिपोर्ट 24 से 48 घंटे के भीतर आ रही है। कोरोना से संक्रमित मिलने पर उसे तत्काल आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट कर इलाज किया जा रहा है।

लॉकडाउन के दो महीने में मिले 232 व जुलाई में आए 342 संक्रमित
खंडवा जिले में 9 अगस्त तक 703 कोरोना मरीज पाए गए। जबकि जुलाई और अगस्त महीने में संदिग्ध मरीजों की सैंपलिंग अप्रैल, मई और जून की तुलना में ज्यादा हुई। मरीज भी सबसे ज्यादा जुलाई और अगस्त के पहले सप्ताह में ठीक होकर घर लौटे। इसका प्रमुख कारण कंटेनमेंट एरिया में सख्ती और होम क्वारेंटाइन किए गए लोगों की निगरानी है। वहीं अप्रैल में 35, मई में 197 एवं अनलॉक-1 के पहले महीने जून में 69 और जुलाई में 342 पॉजिटिव मरीज मिले थे। अगस्त के 9 दिन में 55 मरीज मिले।

समूह में दिख रहे लोग : सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं कर रहे
इधर, संक्रमित मरीजों के आने का क्रम जारी है, बावजूद इसके लोग शहर से लेकर गांव तक सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं कर रहे हैं। बांबे बाजार, बुधवारा, घंटाघर, सराफा, कहारवाड़ी, इमलीपुरा, जलेबी चौक से लेकर पंधाना रोड, जिला अस्पताल से लेकर इंदौर नाका रोड हर तरफ लोगों के समूह में दिखाई दे रहे हैं।
सैंपल लेने के बाद मरीजों को होम क्वारेंटाइन किया जा रहा है, वहीं कंटेनमेंट एरिया में संक्रमित परिवार एवं पड़ोसियों की जांच कर नए मरीजों को खोजा जा रहा है। हाइरिस्क कांटेक्ट के संदिग्ध मरीज को हम पहले ही जिला अस्पताल में भर्ती कर रहे हैं। जिससे संक्रमण पर रोक लग रही है। जिले के डेथ रेट में भी सुधार आया है। -डॉ.योगेश शर्मा, जिला महामारी विशेषज्ञ

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें