• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • Khandwa's 5 Seed Certification Officers Suspended In Fake Seed Case; Suspense On Seed Mafia And DDA

खंडवा में बीज अधिकारियों पर एक्शन:नकली बीज मामले में खंडवा के 5 अफसर सस्पेंड; बीज माफिया व डीडीए पर सस्पेंस

खंडवा/ सावन राजपूतएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • मप्र राज्य बीज प्रमाणीकरण संस्था के प्रबंध संचालक बीएस धुर्वे ने जारी किए निलंबन आदेश

जिले में नकली बीज कारोबार की माफिया गैंग के सहयोगी जिले के सभी 5 बीज प्रमाणीकरण अधिकारियों पर गाज गिरी है। पांचों बीज प्रमाणीकरण अधिकारी सस्पेंड कर दिए गए हैं। इसके आदेश मप्र राज्य बीज प्रमाणीकरण संस्था के प्रबंध संचालक बीएस धुर्वे ने जारी किए हैं।

पिछले शुक्रवार को संभागीय टीम ने जिले के 3 कारोबारियों के यहां छापा मारा था। यहां भारी मात्रा में बीज प्रमाणीकरण के नकली टैग मिले थे। इधर, बीज माफिया बालाजी सीड्स व उत्तम सीड्स के अलावा डीडीए रामस्वरूप गुप्ता पर कार्रवाई बाकी है। कृषि मंत्री के अनुसार कार्रवाई प्रक्रिया में है।

किसानों के साथ लगातार हो रही धोखाधड़ी और संभागीय टीम के छापे में नकली बीज के कारोबार का खुलासा होने के बाद भी बीज माफिया व अफसरों पर एक्शन नहीं लिया गया। गुरूवार सुबह दैनिक भास्कर ने कृषि मंत्री कमल पटेल से पूछा तो उन्हाेंने जल्द कार्रवाई होना बताया। आखिरकार, शाम तक जिले के पांच बीज प्रमाणीकरण अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया गया। निलंबन अवधि में पांचों अफसर इंदौर स्थित संभागीय कार्यालय में अटैच रहेंगे।

ये अफसर किए गए निलंबित

जिले के प्रभारी एवं उप बीज प्रमाणीकरण अधिकारी पीपी सिंह के अलावा सहायक बीज प्रमाणीकरण अधिकारी राजाराम बडोले, जयंत कुल्हारे, सुरेश कुमार, अखिलेश चौहान को निलंबित किया गया है। मप्र राज्य बीज प्रमाणीकरण संस्था के प्रबंध संचालक बीएस धुर्वे ने जारी निलंबन आदेश में बताया कि इन अफसरों द्वारा बीज प्रमाणीकरण कार्यों में लापरवाही बरती गई।

खंडवा में नकली बीज का कारोबार:कृषि मंत्री ने जिन अफसरों को निलंबित करना बताया, उन्होंने ही बीज माफिया पर कराई FIR; भाजपा-कांग्रेस से जुड़े माफिया कार्रवाई से दूर

इन संस्थाओं पर की थी छापेमार कार्रवाई

बीते शुक्रवार को टीम ने खंडवा के ग्राम बावड़िया काजी में बालाजी सीड्स, प्रगति एग्रो सीड्स पांजरिया और उत्तम सीड्स दोंदवाड़ा पर छापेमार कार्रवाई की। इन संस्थानों के पास बीजों के नकली टैग बड़ी मात्रा में पकड़ाए। कृषि विभाग के अफसरों ने सिर्फ प्रगति एग्रो सीड्स पर एफआईआर दर्ज कराई है। खंडवा जिले में सोयाबीन, कपास व गेहूं के नकली बीज का कारोबार 50 करोड़ के करीब है।

भाजपा-कांग्रेस से जुड़े बीज माफिया

नकली बीज माफिया पर राजनीतिक पार्टियों का हाथ भी है। पिछले माह पंधाना रोड स्थित सारस एग्रो पर नकली बीज को लेकर छापा मारा था, लेकिन कार्रवाई का खुलासा नहीं हो पाया। यह संस्था भाजपा से जुड़े एक नेता की है। इसी तरह, शुक्रवार को संभागीय टास्क फोर्स ने गांव बावड़िया काजी में बालाजी सीड्स पर छापा मारा है, उसका मालिक कांग्रेस से जुड़ा है।

खबरें और भी हैं...