• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • Khargone Coronavirus Today Updates: Madhya Pradesh Khargone Civil Surgeon Self isolates after difficulty In breathing

कोरोना इफेक्ट / सिविल सर्जन को सर्दी, खांसी और सांस लेने में तकलीफ, खुद को किया आइसोलेट, इंदौर की कोरोना पाॅजिटिव महिला बड़वाह में कार्यक्रम में हुई थी शामिल

मेडिकल दुकान के बाहर चॉक से मार्क किया गया। मेडिकल दुकान के बाहर चॉक से मार्क किया गया।
X
मेडिकल दुकान के बाहर चॉक से मार्क किया गया।मेडिकल दुकान के बाहर चॉक से मार्क किया गया।

  • जिले में बाहर से आए 40 से ज्यादा नए लोगाें की जांच हुई, लोग सोशल डिस्टेंसिंग का कर रहे पालन
  • दक्षिण अफ्रीका से शहर लौटे दो लोग स्वस्थ्य, डॉक्टरों ने हर तीन दिन में मेडिकल जांच करवाने को कहा

दैनिक भास्कर

Mar 26, 2020, 11:35 AM IST

खरगोन. कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने खरगोन लॉकडाउन के दूसरे दिन गुरुवार को भी पुलिस की सख्ती बरकरार रही। लोगों ने सुबह दूध, किराना, सब्जी सहित अन्य जरूरी सामान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए लिया। इस दौरान सिविल सर्जन डॉ. राजेंद्र जोशी ने खुद को होम आइसोलेट कर लिया है। उन्होंने बताया सर्दी, खांसी, गले में खरास व श्वास लेने में तकलीफ है। इसलिए अन्य लोगांे से दूरी बना ली है। दो दिन तक स्वास्थ्य निगरानी कर रहा हूं। अच्छी बात यह है कि जिला अस्पताल में कोई अन्य डॉक्टर या नर्सिंग स्टॉफ को ऐसी कोई समस्या नहीं है। वहीं, दक्षिण अफ्रीका से दो लोग शहर लौटे। पड़ोसियों ने दोनांे को सर्दी-खांसी की शिकायत जिला चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. रजनी डावर से की। डॉ. डावर ने टीम भिजवाकर उनकी जांच कराई। दोनांे स्वस्थ्य निकले। उन्हें 3-3 दिन में लगातार जांच कराने को कहा गया है।

इंदौर की कोरोना पॉजिटिव महिला मरीज 10 दिन पहले आई थी बड़वाह
इंदौर प्रशासन ने बुधवार को कोरोना पॉजिटिव मिले मरीजों की सूची जारी की है। इसमें एक महिला मरीज बड़वाह में धार्मिक कार्यक्रम में शामिल होकर गई है। जब यह जानकारी सामने आई तो जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग हरकत में आ गया। वह बड़वाह के पास स्थित एक गांव आई थी। 10 दिन पहले कार्यक्रम था। सीएमएचओ डॉ. रजनी डावर ने बताया इंदौर में पॉजिटिव मिले प्रकरणों में 1 लड़की बड़वाह के जमातखाने के एक कार्यक्रम में शामिल होकर गई थी। विभाग ने छानबीन शुरू कर दी है। पता चला है कि चंदननगर इंदौर की महिला कार्यक्रम के अलावा वो किसी परिचित के घर टॉवरबैड़ी भी गई थी। इसके बाद बड़वाह का स्वास्थ्य विभाग व स्थानीय नगरपालिका का अमला सर्वे कर रहा है।

आइसोलेशन वार्ड से दोनों मरीजों की छुट्‌टी, एक भी सैंपल नहीं भेजा
जिला अस्पताल में पिछले दिनों ग्रामीण क्षेत्र की एक महिला को सर्दी-खांसी, बुखार आने पर व शहर की एक किशोरी को निमोनिया होने पर संदिग्ध मानकर ऐहतियात बरती गई। दोनों की आइसोलेशन वार्ड से छुट्‌टी कर दी गई। दिनभर में स्वास्थ्य विभाग ने जिले में अब तक ऐसे 40 से अधिक लोगों की जांच की है। अच्छी बात यह है कि इस जांच में अब तक एक भी बीमारी का संदिग्ध मरीज नहीं है। जिला अस्पताल में भीड़ अब कम हो गई है। रोजाना 120 के करीब ओपीडी हो गई है। यहां पर गंभीर मरीजों को ही लिया जा रहा है। सर्दी, खांसी व बुखार के मरीजों की जांच की जा रही है।

धर्मस्थलों पर जाने से लगाई रोक, धार्मिक समागम किया प्रतिबंधित
केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कोरोना महामारी के बचाव के लिए देश में 21 दिन तक लॉकडाउन के आदेश दिए हैं। कलेक्टर गोपालचंद्र डाड ने भीड़ नियंत्रण के लिए धर्मस्थलों पर आमजन के प्रवेश पर रोक लगाकर धार्मिक समागम प्रतिबंधित कर दिए हैं। 24 मार्च के आदेश को कलेक्टर ने पूर्ववत रखा है। इसमें सामूहिक आरती, पूजा, तकरीर, लंगर, हवन, प्रवचन, प्रार्थना, सामूहिक भोज, भंडारे प्रतिबंधित रहेंगे। आमजन थोक में सब्जी मंडी से सब्जी व फल नहीं खरीद पाएंगे। मंडी से फुटकर सब्जी व फल विक्रेता सुबह 5 बजे से 9 बजे तक खरीदी कर हाथ ठेलों में मोहल्लों में जाकर बेच सकेंगे। आदेश के उल्लंघन पर आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा 51 से 60 व आईपीसी की धारा 188 में आपराधिक मामला दर्ज होगा।

सुबह 5 से 9 बजे तक छूट : वार्डों में पहुंचे सब्जी के ठेलेे, मंडी क्षेत्र खाली
दूध व सब्जी विक्रेताओं को भी सुबह 5 से 9 बजे तक छूट दी गई थी। सुबह सब्जी मंडी में ठेलेवालों ने थोक खरीदी की। उसके बाद शहर की गलियों में सब्जीवाले ठेले लेकर पहुंचे। इस तरह मंडी पूरी तरह दिनभर खाली रही। मंडी के आसपास घूम रहे ठेलेवालों को नगर पालिका की टीम ने भगा दिया।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना