पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

समर्थन मूल्य:केंद्रों पर खरीदा जा रहा नॉन एफएक्यू गेहूं 200 ग्राम अधिक तौल कर किसानों से खुली लूट भी

खंडवा12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जसवाड़ी में सहकारी साख समिति नमी का गेहूं खरीद किसानों को पहुंचा रही 50 किलो पर 200 ग्राम का नुकसान

जिले के कुछ समर्थन मूल्य केंद्रों पर नॉन एफएक्यू यानी गुणवत्ताहीन गेहूं खरीदा जा रहा है। वह भी किसानों को 200 ग्राम का नुकसान पहुंचाकर। समितियाें को 200 ग्राम के प्लास्टिक बारदान में 50 किलो का तौल करना है, जो तौलने पर 50 किलो 200 ग्राम होना चाहिए, लेकिन प्रबंधक व कर्मचारी 50 किलो 400 ग्राम का तौल कर रहे हैं। ऐसे में किसान को 1 क्विंटल पर 400 ग्राम का नुकसान पहुंचाया जा रहा है। जिले में समर्थन मूल्य पर गेहूं व चने की खरीदी को अभी 11 दिन ही हुए हैं और समितियाें ने सरकार को नुकसान पहुंचाने की तैयारी कर ली है। साेमवार काे भास्कर की टीम जब कुछ खरीदी केंद्रों पर पहुंची तो एक नहीं कई खामियां मिली। खरीदी केंद्रों पर मॉयश्चर मशीन से जांच किए बगैर ही गेहूं खरीदा जा रहा था। ट्रैक्टर ट्रालियाें की लंबी कतारें थी। किसानों के लिए बैठक व पीने के पानी की भी व्यवस्था नहीं थी। किसानों के चेहरे पर मास्क, नहीं गमछे थे। समिति की ओर से ऐसे किसानों को ना तो मास्क बांटे गए ना ही सोशल डिस्टेंसिंग देखने को मिली।

गेहूं में 21.4% था मॉइश्चर, प्रबंधक ने खरीद लिया
ग्राम जसवाड़ी में सेवा सहकारी साख समिति जसवाड़ी द्वारा गेहूं की खरीदी की जा रही है। यहां समिति ने 3 हजार क्विंटल गेहूं जो गुणवत्ता वाला नहीं था, वह भी खरीद लिया। भास्कर की टीम ने खरीदे गए गेहूं की जांच करवाई तो उसमें मॉयश्चर 21.4% था, जबकि शासन के निर्देशानुसार 12% तक मॉयश्चर वाला गेहूं ही खरीदना है। यही नहीं यहां पर समिति प्रबंधक दीपक पाराशर किसानों से 200 ग्राम अधिक तौल की शर्त पर ही नमी वाला गेहूं खरीद रहा था। यहां मौजूद किसान राधेश्याम गोपाल जसवाड़ी ने कहा- गेहूं में नमी थी, बेचने और कहां ले जाता, इसलिए प्रति क्विंटल 400 ग्राम अधिक तौल पर यहीं बेच दिया।
केंद्र से 200 मीटर दूर पीने का पानी, छाया तक नहीं
खंडवा में गोदाम स्तर पर खरीदी करने वाले रोशनाई केंद्र पर तहसील मार्केटिंग सोसायटी, छैगांवदेवी स्थित सुधा वेयर हाउस में सेवा सहकारी समिति अहमदपुर खैगांव में पीने का पानी 200 मीटर दूर है। टेंट व बैठक व्यवस्था भी नहीं है। सीता स्टेट वेयर हाउस के चना खरीदी केंद्र में भी व्यवस्थाएं अधूरी हैं। पिछले साल यहां बारिश के पानी से चना व बारदान भीग गए थे।

पिछले तीन साल में गेहूं व चने का उत्पादन
साल गेहूं का उत्पादन चना का उत्पादन

18-19 731 हजार टन 107 हजार टन
19-20 908 हजार टन 77 हजार टन
20-21 914 हजार टन 78 हजार टन

1. जसवाड़ी सेवा सहकारी समिति के बाहर लगी ट्रैक्टर ट्रालियों की लंबी कतार। 2. भास्कर की टीम ने खरीदी केंद्र पर जब खरीदे गेहूं की नमी की जांच कराई तो मॉयश्चर 21% से भी ऊपर निकला।

1574 किसानों से 1.10 लाख क्विंटल हो चुकी है खरीदी
जिले के 78 केंद्राें पर सोमवार तक 1574 किसानों ने 1 लाख 10 हजार 150 क्विंटल गेहूं बेच दिया, जबकि 8830 क्विंटल गेहूं का परिवहन भी हो गया। पिछले साल की बात करें तो समर्थन मूल्य पर 2 लाख 1 हजार मीट्रिक टन गेहूं की खरीदी की गई थी। इस साल 2.30 लाख मीट्रिक टन का लक्ष्य है।
खराब क्वालिटी के तीन सौदे कैंसिल किए, कार्रवाई होगी
^पंधाना रोड पर चौहान वेयर हाउस पर हमने खराब किस्म होने पर किसानों के तीन सौदे कैंसिल किए। गड़बड़ी पाए जाने पर समिति प्रबंधक, सर्वेयर पर कार्रवाई की जाएगी।
अरुण कुमार तिवारी, जिला खाद्य एवं आपूर्ति अधिकारी
12% मॉयश्चर तक ही खरीद सकते है उपज
^समितियों को 12% मॉयश्चर तक ही गेहूं की खरीदी करनी है। इससे अधिक की अनुमति नहीं है। ऐसा होता है तो वह खरीदी रिजेक्ट होकर किसान को लौटाई जाएगी। जिला उपार्जन समिति नियमानुसार कार्रर्वा करेगी।
एके हरसोला, एमडी, जिला सहकारी बैंक

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज मार्केटिंग अथवा मीडिया से संबंधित कोई महत्वपूर्ण जानकारी मिल सकती है, जो आपकी आर्थिक स्थिति के लिए बहुत उपयोगी साबित होगी। किसी भी फोन कॉल को नजरअंदाज ना करें। आपके अधिकतर काम सहज और आरामद...

    और पढ़ें