पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अंतिम संस्कार के बाद नहीं आए अस्थि विसर्जन नहीं:मुक्तिधाम पर किनारे व प्लेटफार्म पर लग रहे अस्थियों के ढेर

खंडवा14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
किशोर कुमार मुक्तिधाम पर प्लेटफार्म के आसपास अस्थियों के ढेर दिखाई दे रहे हैं। - Dainik Bhaskar
किशोर कुमार मुक्तिधाम पर प्लेटफार्म के आसपास अस्थियों के ढेर दिखाई दे रहे हैं।
  • कोरोना संक्रमण का भय ऐसा कि 40 से अधिक लोगों के परिजन अंतिम संस्कार के बाद नहीं आए अस्थि विसर्जन करने
  • 20 दिन में दो मुक्तिधामों पर 150 से अधिक शवों का कोविड प्रोटोकाल से हो चुका अंतिम संस्कार

कोरोना संक्रमण के भय ने मौत के बाद लोगों को अपनों से दूर कर दिया है। इसी कारण जिला अस्पताल में इलाज के दौरान मौत होने पर कोरोना प्रोटोकॉल से जिन लोगों का अंतिम संस्कार किया जा रहा हैं, उनमें से कुछ लोगों के परिजन तो अंतिम संस्कार के बाद अस्थियों के विसर्जन के लिए भी नहीं आए।

किशोर कुमार मुक्तिधाम पर ऐसे करीब 40 शवों के अंतिम संस्कार के बाद परिजन ने अस्थि विसर्जन नहीं किया। 20 दिन में 150 से अधिक शवों का दो मुक्तिधामों पर कोविड प्रोटोकॉल से अंतिम संस्कार हो चुका है। इसके अलावा अप्रैल में शहर के 141 लोगों की सामान्य मृत्यु भी हुई है।

किशोर कुमार स्मारक से समाधि स्थल तक आबना नदी के किनारे जगह-जगह अस्थियों के ढेर या फिर बिखरी हुई अस्थियां और राख दिखाई दे रही है। इस मुक्तिधाम पर परिजन जहां खाली जगह दिखाई दे रही हैं, वहां अंतिम संस्कार कर रहे हैं। वहीं मुख्य प्लेटफार्म पर भी राख और अस्थियों का ढेर लग गया है। हालांकि निगम द्वारा अस्थियों के ढेर कम करने के लिए फायर ब्रिगेड से पानी का छिड़काव भी किया जा रहा है। चौकीदार रमेश मराठा के अनुसार 40 से अधिक शव ऐसे हैं जिनके अंतिम संस्कार के बाद परिजन अस्थियां लेने नहीं आए।

अस्थि विसर्जन से मिलती है आत्मा को मुक्ति

मृत्यु के 10 दिन में अस्थि विसर्जन हो जाना चाहिए। शास्त्रों में मान्यता है कि जब तक अस्थियों का विसर्जन जल में नहीं होता तब तक आत्मा की मुक्ति का मार्ग प्रशस्त नहीं होता है।
- पंडित आशीष सरमंडल, छत्रपति शिवाजी नगर

अस्थियों के ढेर लग रहे हैं तो करेंगे विसर्जन

किशोर कुमार मुक्तिधाम पर फायर वाहन से निगम द्वारा अस्थियों को प्रवाहित किया जा रहा है। यदि अस्थियों के ढेर लगे हैं तो सुरक्षा के साथ आबना में विसर्जन के प्रयास किए जाएंगे।
-आशीष चटकेले, अध्यक्ष, पूर्व निमाड़ सामाजिक सांस्कृतिक सेवा समिति

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा व्यवहारिक गतिविधियों में बेहतरीन व्यवस्था बनी रहेगी। नई-नई जानकारियां हासिल करने में भी उचित समय व्यतीत होगा। अपने मनपसंद कार्यों में कुछ समय व्यतीत करने से मन प्रफुल्लित रहेगा ...

    और पढ़ें