पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • Only 50 People Will Stay In Dadaji Temple At A Time, Now The Entry Of Devotees Will Be Restricted Till 24

गुरुपूर्णिमा कल:दादाजी मंदिर में एक समय में रहेंगे सिर्फ 50 लोग, अब 24 तक श्रद्धालुओं का प्रवेश रहेगा प्रतिबंधित

खंडवा11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मंदिर के गेट बंद किए जाने के बाद क्षेत्र के लाेगाें ने बाहर से ही की आरती। - Dainik Bhaskar
मंदिर के गेट बंद किए जाने के बाद क्षेत्र के लाेगाें ने बाहर से ही की आरती।
  • दादाजी मंदिर का गेट नंबर 1 शाम को किया बंद, प्रशासन ने लिया बैठक में निर्णय

श्री दादाजी धूनी वाले के मंदिर में दर्शन के लिए आम लोगों का प्रवेश अब 24 जुलाई तक प्रतिबंधित रहेगा। यह निर्णय पूर्णिमा दो दिन होने के कारण प्रशासन ने बुधवार शाम पुलिस कंट्रोल रूम में हुई बैठक में लिया। हालांकि मंदिर में गुरुपूर्णिमा उत्सव 23 जुलाई को मनाया जाएगा। इसलिए प्रशासन ने पहले 21 जुलाई से तीन दिन के लिए दर्शनार्थियों का प्रवेश प्रतिबंधित किया था। अन्य स्थानों पर 24 जुलाई को पूर्णिमा होने के कारण अब चौथे दिन भी मंदिर में आम लोगों का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। वहीं शासन की नई गाइड लाइन के अनुसार मंदिर में अब एक समय में सिर्फ 50 लोग ही रह सकेंगे।

इधर बुधवार सुबह से शाम 4 बजे तक मंदिर में लाेगाें ने सामान्य दिनों की तरह ही दर्शन किए। हालांकि इस दौरान सीमित लोग ही मंदिर पहुंचे। नियमों का पालन कराने के लिए मंदिर के ठीक सामने अस्थायी पुलिस कंट्रोल रूम में पुलिस बल तैनात कर दिया है।

शाम को पुलिस कंट्रोल रूम में एसडीएम ममता खड़े ने मंदिर में सेवा देने वाले लोगों के साथ बैठक में चर्चा की। इस दौरान उन्होंने कहा कि मंदिर में एक समय में 50 लोग से अधिक उपस्थित नहीं रह सकते। नियमों का पालन कराने के लिए गणेश गोशाला और संजय नगर में रोशनाई रोड के पास बेरिकेडिंग की जाएगी ताकि कोई भी व्यक्ति मंदिर तक नहीं जा सकें। क्षेत्र में रहने वाले स्थानीय लोग आवागमन कर सकेंगे। बैठक में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सीमा अलावा, सीएसपी ललित गठरे, ट्रस्टी सुभाष नागोरी, प्रकाश बाहेती, पटेल सेवा समिति के मदन ठाकरे सहित छोटे सरकार के प्रतिनिधि शामिल हुए।

  • दिन में सामान्य दिनों की तरह दर्शन किए और रात में बाहर खड़े हाेकर आरती में शामिल हुए श्रद्धालु
  • अस्थायी कंट्रोल रूम में पुलिस बल तैनात, गणेश गोशाला व रोशनाई मार्ग पर की जाएगी बेरिकेडिंग

ट्रस्ट ने 400 सेवादारों की प्रशासन को दी थी सूची
मंदिर ट्रस्ट, पटेल सेवा समिति और छोटे सरकार के प्रतिनिधियों की ओर से उत्सव के दौरान मंदिर में सेवा देने वाले 400 लोगों की सूची प्रशासन को दी थी। नई गाइड लाइन के अनुसार एक समय में 50 लोग ही मंदिर में रह सकेंगे। ऐसी स्थिति में अब सेवादारों की सूची भी छोटी की जाएगी।

इधर कुछ धर्मशालाओं में रुके हैं बाहर के लोग
गुरुपूर्णिमा पर मंदिर में दर्शन करने के उद्देश्य से महाराष्ट्र सहित अन्य स्थानों से आए कुछ लोग धर्मशालाओं में रुके हुए हैं। प्रशासन ने सेवादारों की संख्या भी समिति कर दी है। इससे धर्मशालाओं में ठहरे लोगाें काे भी सामना करना पड़ सकता है।

  • 5 बजे शाम को बंद किया गेट नंबर एक
  • 35 सीसीटीवी कैमरे से मंदिर में रखी जा रही नजर
  • 4 समय की आरती आज से ऑन लाइन देख सकेंगे श्रद्धालु
  • 23 जुलाई को मंदिर में मनाई जाएगी गुरु पूर्णिमा
  • 24 जुलाई तक मंदिर के गेट आम लोगों के लिए रहेंगे बंद
बुधवार सीमित लोग ही मंदिर पहुंचे। दोपहर तक लोगों ने सामान्य दिनों की तरह दर्शन किए।
बुधवार सीमित लोग ही मंदिर पहुंचे। दोपहर तक लोगों ने सामान्य दिनों की तरह दर्शन किए।
आम श्रद्धालुओं के लिए मंदिर के गेट बंद किए जाने के बाद कुछ लोगों ने बाहर से ही दर्शन किए।
आम श्रद्धालुओं के लिए मंदिर के गेट बंद किए जाने के बाद कुछ लोगों ने बाहर से ही दर्शन किए।

नियमों का कराएंगे पालन

  • मंदिर में 23 जुलाई को गुरु पूर्णिमा मनाई जाएगी। सेवादारों की संख्या कम कर बैंच देंगे। नियमों का पालन कराएंगे। शाम से गेट नंबर 1 बंद कर दिया। 2 नंबर गेट के पास से ही प्रसादी दी जा रही है। -सुभाष नागोरी, ट्रस्टी श्री धूनी वाला आश्रम

24 तक बंद रहेगा मंदिर

  • मंदिर में जो लोग अंदर हैं, वे 50-50 की शिफ्ट में रह सकेंगे। दर्शन करने वाले लोगों का प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया है। 24 को अन्य स्थानों पर पूर्णिमा मनाई जाएगी, इसलिए अब चार दिन मंदिर बंद रहेगा। -ममता खेड़े, एसडीएम
खबरें और भी हैं...